कानून-व्यवस्था को पटरी पर लाना हमारी पहली प्राथमिकता: डीजीपी

कानून-व्यवस्था को पटरी पर लाना हमारी पहली प्राथमिकता: डीजीपी

चुनौतियों का सामना करने के लिए हमारे पास सशक्त टीम: ओपी सिंह


चुनौतियों का सामना करने के लिए हमारे पास सशक्त टीम: ओपी सिंह

लखनऊ। प्रदेश के नए पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओम प्रकाश (ओपी) सिंह ने मंगलवार को डालीबाग में डीजीपी मुख्यालय में अपना कार्यभार सम्भाल लिया है। इससे पहले लखनऊ पहुंचने के बाद ओपी सिंह हनुमान सेतु स्थित हनुमान मंदिर जाकर हनुमान जी के दर्शन किए। हाल ही में हुई ताबड़तोड़ डकैतियों के चलते पटरी से उतरी कानून व्यवस्था को वापस ट्रैक पर लाना उनके लिए बड़ी चुनौती होगी।

कानून-व्यवस्था को पटरी पर लाना उनकी प्राथमिकता

प्रदेश के नए पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओम प्रकाश (ओपी) सिंह पदभार ग्रहण करने के बाद मंंगलवार को पत्रकारों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि मैं एक बहुत अच्छे पुलिस बल का मुखिया बनाया गया हूं ये मेरे लिए गर्व की बात है। यूपी सबसे बड़ा राज्य है। उन्होंने माना कि उनके सामने ढेर सारी चुनौतियां हैं। प्रदेश की कानून-व्यवस्था को पटरी पर लाना उनकी प्राथमिकता है। डीजीपी ने कहा कि आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए हमारे पास एक बहुत ही सशक्त टीम है। आने वाले समय में मैं प्रदेश के लोगों को सुरक्षा की भावना दे पाऊंगा।

पूरे राज्य को एक सुरक्षित भावना से ओत-प्रोत करेंगे

ओपी सिंह ने कहा कि कानून व्यवस्था के मामले में हमारा राज्य अच्छी स्थित से गुजर रहा है। हम सर्विस डिलीवरी को और इम्प्रूव करेंगे और रेस्पॉन्स टाइम को कम करेंगे। डीजीपी ने कहा कि अपराध समाज में होते रहते हैं। हम उन पर कैसे काबू पाएं इस पर हम जोर देंगे। हम रोड सेफ्टी पर जोर देंगे। उन्होंने कहा कि जनता को रोड एक्सीडेंट से मुक्ति दिलाने का हमारा प्रयास होगा। हम पूरे राज्य को एक सुरक्षित भावना से ओत-प्रोत करेंगे। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि हमारे सभी आफीसर्स नए सेन्स के साथ प्रोफेशनल तरीके से अच्छा काम करेंगे।

जब अपराधी गोली चलाएंगे तो पुलिस उनसे निपटेगी

एनएचआरसी की नोटिस पर डीजीपी सिंह ने कहा कि जब अपराधी सामने आएंगे और गोली चलाएंगे तो पुलिस उनसे निपटेगी। उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता अपराधी को गिरफ्तार करने की रहती है। पुलिस कमिश्नरी सिस्टम हों इसका हम प्रयास करेंगे। डीजीपी ने कहा कि पूरी अपराध तालिका अभी मेरे पास नहीं। मैं एडीजी लां एंड आर्डर से बात करूंगा। जहां-जहां जरूरत होगी हम इंटरफेयर करेंगे। जिलों में जिलाधिकारियों द्वारा बैठक लिए जाने पर डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि मैं इसका अध्ययन करूंगा। पद्मावत के विरोध के सवाल पर उन्होंने कहा कि पद्मावत पर हम सही समय पर सही कार्रवाई करेंगे।

यह भी पढ़ें :-  इन 112 महिलाओं ने हदें पार कर सपने को किया साकार

बता दें कि 1983 बैच के आईपीएस अधिकारी ओपी सिंह ने 19 सितंबर 2016 को केंद्रीय औद्यागिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के डीजी का पद संभाला था। उत्तर प्रदेश में वह एसएसपी, डीआईजी, आईजी और एडीजी के तौर पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं।

यह भी पढ़ें :-  मुख्यमंत्री व राज्यपाल ने सुभाष चंद्र बोस को किया नमन


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *