ईश्वर ने इंसान पैदा किए हैं जाति व धर्म नहीं: भाटिया

ईश्वर ने इंसान पैदा किए हैं जाति व धर्म नहीं: भाटिया



गोला गोकर्णनाथ खीरी। ईश्वर निराकार है वह एक है उसके रुप चाहे जितने हों। ईश्वर ने इंसान पैदा किए हैं जाति व धर्म नहीं। निरंकारी मिशन इन आडम्बरों को नहीं मानता। निरंकारी मिशन द्वारा दिया गया ज्ञान ईश्वर की पहचान कराता है, सच्चा शिव दिखाता है, सच्चे राम की पहचान कराता है, सच्चे अल्लाह व जीसस व वाहेगुरु की पहचान कराता है। उक्त विचार निरंकारी मिशन के जम्मू कश्मीर से आए निरंकारी महात्मा विनोद भाटिया ने व्यक्त किए।

यह भी पढ़े:- पत्नी, बेटी व पड़ोसी को गोली मार सेल्समैन ने की खुदकुशी

उन्होंने कहा कि जिस तरह डॉक्टर के यहां शादी होने पर उसकी बीबी बिना डिग्री के डॉक्टरनी हो जाती है। इसी प्रकार किसी भी धर्म में जन्म लेने पर हम हिन्दू-मुस्लिम सिक्ख व ईसाई हो जाते हैं। ईश्वर की जानकारी निरंकारी मिशन कराता है और इसके बाद मनुष्य के मन में बदलाव आ जाता है। सेवा का भाव पैदा हो जाता है व जांति-पंाति ऊंच नींच को भूलकर यह जान जाता है कि सभी उस एक परामत्मा की संतान है इसलिए वह सभी से प्रेम करता है।

यह भी पढ़े:- भतीजी पर ब्लेड से किया हमला, मुकदमा दर्ज

उन्होने कहा कि निरंकारी मिशन का ध्येय वाक्य है एक को जानों एक को मानों और एक हो जाओं। इस मौके पर डॉ. हरमोहन सिंह खुराना, गोला प्रमुख कश्मीर सिंह खुराना, अवधेश पाण्डेय, रंजीत सिंह क्षेत्रीय संचालक, लालजी प्रसाद, रामनरेश सोनी, तेजराम वर्मा, आशीष वर्मा, कृष्ण देव, सरिता गुप्ता, रामबेटी, ़ऋतु रस्तोगी, लक्ष्मण सिंह, गुरुदीप सिंह, सुच्चा सिंह, डॉ. बंगाली, रामलखन, संध्या, आलोक वर्मा, कुसुम वर्मा, शिवम गुप्ता इन्द्रेश बंसल, शिवम गुप्ता, जगदीश यादव, बिजेन्द्र सिंह बहादुर लाल, उमा गुप्ता, नीतू, संजू श्रीवास्तव, शीतल सोनी, कुसुम वर्मा, प्रिया, तुषार आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़े:- एकीकृत छात्रवृति परीक्षा में सरस्वती विद्या निकेतन के 54 विद्यार्थियों का चयन


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *