हमें ऐसे भारत के लिए लडऩा है जहां न्याय संगत व्यवस्था हो: प्रहलाद पटेल

हमें ऐसे भारत के लिए लडऩा है जहां न्याय संगत व्यवस्था हो: प्रहलाद पटेल



 

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। कांग्रेस नेता प्रहलाद पटेल ने कहा कि कई बार कानून के राज पर गैरकानूनी शक्तियां हावी होती हैं, हमें अपनी आजादी को सुरक्षित रखना है। हमें एक ऐसे भारत के लिए लडऩा है जिसमें इंसानी आजादी, स्वेच्छा और न्यायसंगत व्यवस्था हो। हम इसकी लड़ाई लड़ेंगे।

भाजपा और आरएसएस पर बोला हमला

कांग्रेस के प्रदेश सचिव एवं जिला पंचायत सदस्य प्रहलाद पटेल मगंलवार को स्वतंत्रता दिवस पर सरदार पटेल इंटर कॉलेज गोविंदापुर में छात्रों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज आजादी को 70 वर्ष पूरे होने जा रहे हैं। प्रहलाद पटेल ने बिना नाम लिए भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस पर करारा तंज कसा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग जिनका आजादी में कोई योगदान नहीं रहा। वह लोग देश के महापुरुषों का इतिहास बदलने का काम करने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भारत छोड़ो आंदोलन के शहीदों को किया नमन

साम्प्रदायिक शक्तियों से दूर रहने की जरूरत

उन्होंने कहा कि जब देश गुलाम था तो यह लोग अंग्रेजों के हिमायती थे और आज तिरंगा के बारे में और देश के बारे में चिंतन कर लोगों का ध्यान सांप्रदायिकता की तरफ ले जाने का षड्यंत्र रच रहे हैं, हमें ऐसे लोगों से दूर रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि देश को आजादी दिलाने के लिए ही कांग्रेस पार्टी बनी थी, जब तक देश है तब तक कांग्रेस पार्टी रहेगी। सत्ता का आना-जाना लगा रहता है। देश हमारा धर्मनिरपेक्ष है और धर्मनिरपेक्ष रहेगा।

इंदिरा गांधी की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

इससे पहले उन्होंने अपने आधा दर्जन साथियों के साथ कई जगहों पर ध्वजारोहण कर कार्यक्रमों में भाग लिया। उन्होंने सदर चौराहा स्थ्ति पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

अपने घरों में एक पौध जरूर लगाएं

कांग्रेस नेता प्रहलाद पटेल ने ज्ञान ज्योति हायर सेकेंडरी पब्लिक स्कूल में पौधरोपण किया। उन्होंने बच्चों से अपने-अपने घरों में भी एक-एक पौधा लगाने की अपली की। कहा कि प्रतिवर्ष 15 अगस्त को हम अपने बगीचे से लेकर सडक़ तक एक पेड़ अवश्य लगाएं। इस दौरान राम शंकर पाल, पंकज पटेल, इसरार अहमद, प्रेम कुमार वर्मा, पारस प्रसाद मिश्रा समेत तमाम लोग मौजूद रहे।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *