महिला चिकित्सक की डिग्री पर संदेह, सीएमओ ने दिए जांच के आदेश, सीएचसी में हड़कम्प

महिला चिकित्सक की डिग्री पर संदेह, सीएमओ ने दिए जांच के आदेश, सीएचसी में हड़कम्प



गोला गोकर्णनाथ, खीरी। सोमवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी मनोज अग्रवाल ने सीएचसी का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण को लेकर अस्पताल के कर्मचारियों में हडकंप मच गया। यहां सीएमओ ने डिप्टी सीएमओ की रिपोर्ट पर एक महिला संविदा चिकित्सक की डिग्री की जांच के लिए केंद्र अधीक्षक को तत्काल जांच आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। जिसमें महिला चिकित्सक आयरलैड की एक यूनिवर्सिटी की डिग्री प्रदेश के मेडिकल काउंसिल में सत्यापित एवं पंजीकरण न होने पर प्रपत्र तलब किए।

सीएमओ मनोज अग्रवाल ने सीएचसी के निरीक्षण के दौरान वार्ड में गंदे बिस्तर, गंदी चादरे, गंदे शौचालय सहित परिसर में गंदगी का माहौल देखकर नाराजगी व्यक्त की। इसके बाद भीषणगर्मी में जनरेटर की व्यवस्था न होने, पार्किग, पेयजल, आरओ आदि खराब पाए जाने पर कड़े निर्देश देते हुए व्यवस्थाओं को चाक चौबंद करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान उन्होने अधिकारियों व स्वास्थ्यकर्मियों के साथ बैठक की, जिसमें कडे निर्देश देते हुए कहा कि सीएचसी पर 24 घंटे स्वास्थ्य सेवाएं बहाल रखी जानी चाहिए। वार्डो व शौचालयों व परिसर पूरी तरह से साफ सुथरा होना चाहिए। सीएमओ ने शिकायतों पर संविदा कर्मियों की क्लास लगाते हुए स्वास्थ्य सेवाओं में खिलवाड़ किए जाने पर कडी कार्रवाई के संकेत दिए।

यह भी पढ़ें … खीरी: जेल में बंद कैदी की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

वहीं, महिला संविदा चिकित्सक के संदर्भ में उनकी आयरलैड की डबलिन यूनिवर्सिटी की डिग्री डिप्लोमा, जो कि मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया एवं उत्तर प्रदेश मेडिकल काउंसिल में पंजीकरण एवं सत्यापन न होने के कारण स्त्री रोग के लिए वैध न होने के कारण समस्त प्रमाण पत्र के साथ यथाशीघ्र कार्यालय में अग्रिम जांच एवं सत्यापन के लिए तलब किए हैं। साथ ही चिकित्सक को चेतावनी दी है कि उक्त दस्तावेज एक सप्ताह में प्रस्तुत न करने पर उनकी संविदा समाप्त करने की संस्तुति करते हुए अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें … संदिग्ध हालात में नेपाली युवक की मौत

सीएमओ का तुगलगी फरमान, संविदा चिकित्सक 24 घंटे इमरजेंसी का आदेश

सीएमओ मनोज अग्रवाल ने सीएचसी में तैनात संविदा महिला चिकित्सक को 24 घंटे इमरजेंसी सेवा करने का मौखिक आदेश सीएचसी अधीक्षक को दिया है। जबकि सीएचसी में तैनात चिकित्सकों का कहना है कि परमानेंट चिकित्सकों को 365 दिन 24 घंटे इमरजेंसी करने का अभी तक कोई शासनादेश नहीं आया है तोे अकेली संविदा चिकित्सक 365 दिन 24 घंटे इमरजेंसी कैसे करेगीं।


सीएमओ के मौखिक आदेश पर संविदा चिकित्सक डॉ. नूतन मेहरोत्रा को 24 घंटे इमरजेसीं सेवा के लिए डयूटी पर तैनात कर दिया गया है।

डा. राजेन्द्र कुमार, सीएचसी अधीक्षक गोला गोकर्णनाथ, खीरी।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *