खीरी: जल निगम ने सीवर में फेंक दिए करोड़ों रुपए!

खीरी: जल निगम ने सीवर में फेंक दिए करोड़ों रुपए!



मंदीप वर्मा

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। शहर में दशकों पूर्व करोड़ों रुपए की लागत से बनी सीवर लाइन चालू कराने के सम्बन्ध में शासन कोई रुचि नहीं ले रहा है। इसे चालू कराने के लिए पालिकाध्यक्ष मीनाक्षी अग्रवाल ने अपने पूर्व कार्यकाल के दौरान मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर जनहित में चालू कराने की मांग कर चुकी हैं और एक वर्ष से अधिक समय बीत जाने के बाद भी अमल में नहीं लाया गया है।

1972 में सीवर लाईन को मिली थी मंजूरी

नगर पालिका अध्यक्ष मीनाक्षी अग्रवाल ने पूर्व के कार्यकाल के दौरान पांच अप्रैल 2017 को मुख्यमंत्री को सीवर लाइन चालू किए जाने के लिए एक पत्र भेजा था। इसमें उन्होंने कहा था कि गोला छोटी काशी के नाम से विख्यात है और यहां एशिया की प्रसिद्व चीनी मिल, तीर्थ व पौराणिक शिव मंदिर होने के चलते प्रतिदिन हजारों यात्रियों का आवागमन होता है, जिसके कारण वर्ष 1972 में शहर में सीवर लाईन योजना के प्रस्ताव को मंजूरी मिली थी।

2002 में शुरू किया गया था काम

उत्तर प्रदेश जल निगम लखीमपुर खीरी द्वारा नगर के मुख्य मार्गों पर सीवर लाइन डालने का काम शुरू किया। वर्ष 2002 में कार्य पूर्ण करते हुए योजना का हस्तान्तरण नगर पालिका परिषद को किए जाने के लिए अभिलेख प्रस्तुत किए गए थे। पालिका द्वारा इस शर्त के साथ योजना का हस्तान्तरण किया गया कि यदि एक वर्ष तक सीवर योजना सुचारू रूप से कार्य करेगी तो हस्तान्तरण स्थाई माना जाएगा, लेकिन सीवर योजना सुचारू रूप से संचालित न हो पाने के कारण नगर पालिका परिषद बोर्ड ने प्रस्ताव पारित करते हुए छह जून 2003 को सीवर योजना उत्तर प्रदेश जल निगम लखीमपुर खीरी को वापस कर दी गई।

यह भी पढ़ें … युवक और युवती ‘प्यार’ में मरने चले थे और पहुंच गई पुलिस…

मुख्यमंत्री को लिखा जा चुका है पत्र

तब से सीवर योजना बंद पड़ी है और करोड़ों रुपए खर्च हो जाने के बावजूद इस योजना का लाभ नगरवासियों को नहीं मिल पा रहा है। मुख्यमंत्री को पत्र भेजे जाने के एक वर्ष बीत जाने के बाद भी शासन द्वारा नगर की बहुप्रशिक्षित सीवर लाईन योजना को शुरू करवाने की कोई ठोस पहल दिखाई नहीं दे रही है, जिसके चलते करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी यह योजना मिट्टी में दबी हुई है।

यह भी पढ़ें … खीरी पुलिस को बड़ी कामयाबी, तीन साल से फरार अपराधी को दबोचा

सीवर लाईन के लिए हो चुका धरना प्रदर्शन

नगर के अधिवक्ता राजेन्द्र अग्निहोत्री ने वर्ष 2012 से सीवर लाइन योजना चालू कराने का मुद्दा उठा रखा है। इसके लिए उन्होंने शासन प्रशासन से लेकर प्रधानमंत्री तक पत्र भेजकर इस योजना को चालू कराने की मांग कर चुके हैं और इसके अलावा सांकेतिक धरना व प्रदर्शन कर चुके हैं। उन्होंने वार्ता के दौरान बताया कि अभी तक शासन द्वारा इस सीवर लाईन योजना को चालू कराने के लिए कोई पहल नहीं की गई है। जब तक सीवर लाईन चालू नहीं हो जाती तब तक वह संघर्ष करते रहेंगे।


सीवर लाईन योजना शहर के लिए आवश्यक है, इसके लिए नगर पालिका परिषद प्रयासरत भी है। इसे चालू कराने को लेकर पूर्व में नगर पालिका द्वारा शासन को पत्र भेजा चुका है, लेकिन अभी तक इस पर कोई कार्यवाही नहीं हो सकी है।

आरआर अम्बेश, अधिशाषी अधिकारी, नगर पालिका परिषद गोला गोकर्णनाथ, खीरी।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *