पीएनबी घोटाला: गीतांजलि के 2 अधिकारियों का इस्तीफा

पीएनबी घोटाला: गीतांजलि के 2 अधिकारियों का इस्तीफा



पीएनबी घोटाला:  गीतांजलि के 2 अधिकारियों का इस्तीफा
पीएनबी घोटाला: गीतांजलि के 2 अधिकारियों का इस्तीफा

मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 1.8 अरब डॉलर के घोटाले के सामने आने के बाद गीतांजलि जेम्स के दो वरिष्ठ अधिकारी (चंद्रकांत करकरे और पंखुड़ी वारांगे) ने इस्तीफा दे दिया है। शेयर बाजार में नियामकीय फाइलिंग में सोमवार को कंपनी ने यह जानकारी दी है। पीएनबी घोटाला:  गीतांजलि के 2 अधिकारियों का इस्तीफा …

यह भी पढ़ें :- भारत प्रौद्योगिकी का फायदा उठाने की बेहतर स्थिति में : प्रधानमंत्री

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा धोखाधरू१ी मामले में दर्ज एफआईआर में इन दोनों अधिकारियों के नाम शामिल हैं। करकरे ने जहां निजी समस्याओं का हवाला देकर कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी (सीएफओ) के पद से इस्तीफा दिया है, वहीं वारांगे ने कहा कि उन्होंने कंपनी सचिव और अनुपालन अधिकारी के रूप में कंपनी प्रबंधन से कंपनी के बारे कुछ बातों का खुलासा करने को कहा था, जो नहीं किया गया। इसलिए उन्होंने कंपनी छोडऩे का फैसला किया है। 13 फरवरी को भेजे अपने इस्तीफे में उन्होंने कहा है कि उनका ‘विवेक उन्हें वर्तमान स्थिति में इस पद पर रहने की अनुमति नहीं देता’ है।

यह भी पढ़ें :- सभी प्रामाणिक प्रतिबद्धताएं पूरी की जाएंगी: पीएनबी

सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक के सेवानिवृत्त उपप्रबंधक गोकुलनाथ शेट्टी और दो अन्य को शनिवार को गिरफ्तार किया। पीएनबी के सेवानिवृत्त उपप्रबंधक और सिंगल विंडो संचालक के अलावा सीबीआई की एफआईआर में तीन निजी कंपनियों के 10 निदेशकों के नाम भी शामिल हैं। इनमें कृष्णन संगमेश्वरम, नजुरा यशंजय, गोपाल दास भाटिया, अनियथ शिवरमन, धनेश व्रजलाल सेठ, ज्योति भरत वोरा, अनिल उमेश हल्दीपुर, चंद्रकांत कानू करकरे, पंखुड़ी अभिजित वारांगे और मिहिर भास्कर जोशी के नाम शामिल हैं।

यह भी पढ़ें :- बीफ खाना है तो खाइए, किस करना है तो करिए, लेकिन फेस्टिवल क्यों: नायडू


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *