योगी सरकार ने पर्यटन को दिया ‘उद्योग’ का दर्जा

योगी सरकार ने पर्यटन को दिया ‘उद्योग’ का दर्जा



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn
योगी सरकार ने पर्यटन को दिया ‘उद्योग’ का दर्जा
योगी सरकार ने पर्यटन को दिया ‘उद्योग’ का दर्जा

लखनऊ। प्रदेश में पर्यटन की असीमित सम्भावनाओं को देखते हुए योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश पर्यटन नीति-2018 जारी कर दी है। राज्य सरकार ने पर्यटन क्षेत्र की सभी गतिविधियों को ‘उद्योग’ का दर्जा दिया और पर्यटन परियोजनाओं के सम्बन्ध में निवेशकों को आमंत्रित किया है। योगी सरकार ने पर्यटन को दिया ‘उद्योग’ का दर्जा …

यह भी पढ़ें :- निवेशक सम्मेलन में फोटो पहचान-पत्र बगैर प्रवेश नहीं

सोमवार को शास्त्री भवन में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पर्यटन मंत्री रीता जोशी के साथ मौजूद रहे पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि राज्य सरकार ने पर्यटन क्षेत्र की सभी गतिविधियों को ‘उद्योग’ का दर्जा दिया है। यह पर्यटन नीति 5 सालों के लिए प्रभावी रहेगी। उन्होंने बताया क इस नीति के जरिए से पर्यटन विभाग का घरेलू पर्यटकों के आगमन में 15 प्रतिशत और विदेशी पर्यटकों में 10 प्रतिशत वृद्धि का लक्ष्य है। उन्होंने इसके जरिए हर साल 5 हजार करो? रुपये का निवेश आकर्षित होगा, जिससे हर वर्ष 5 लाख लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार उपलब्ध होगा।

उन्होंने बताया कि यह नीति एक लाख पर्यटकों को उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय पार्क तथा वन्य जीव विहारों की तरफ आकर्षित करेगी। साथ ही, 10 हेरिटेज भवनों को हेरिटेज होटल में प्रतिवर्ष परिवर्तित किया जा सकेगा। इसके अलावा यूपी में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभाग लैण्ड बैंक का भी सृजन करेगा। यहीन हीं ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने के विशेष प्रयास होंगे और स्थानीय उद्यमिता को मेलों और पर्वां के माध्यम से आकर्षित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :- पीएनबी घोटाला: गीतांजलि के 2 अधिकारियों का इस्तीफा

श्री अवस्थी ने बताया कि 10 पर्यटक सर्किटों रामायण सर्किट, कृष्ण-ब्रज सर्किट, बुद्धिस्ट सर्किट, वाइल्ड लाइफ एवं ईको टूरिज्म सर्किट, बुंदेलखंड सर्किट, महाभारत सर्किट, शक्ति पीठ सर्किट, आध्यात्मिक सर्किट, सूफी-कबीर सर्किट और जैन सर्किट में पर्यटन स्थलों के 20 किमी के भीतर विभिन्न निवेश के अवसर, आर्थिक प्रोत्साहन और लाभ दिए जाएंगे। पर्यटन नीति में प्रत्येक सर्किट के स्थलों के बारे में बताया गया है। प्रमुख सचिव ने कहा कि इस पर्यटन नीति से यूपी में पर्यटन निवेश आकर्षित होगा।

यह भी पढ़ें :- भारत प्रौद्योगिकी का फायदा उठाने की बेहतर स्थिति में : प्रधानमंत्री


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *