समाधान दिवस: डीएम और एसपी ने अधीनस्थों को लगाई फटकार

समाधान दिवस: डीएम और एसपी ने अधीनस्थों को लगाई फटकार



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn
समाधान दिवस: डीएम और एसपी ने अधीनस्थों को लगाई फटकार
समाधान दिवस: डीएम और एसपी ने अधीनस्थों को लगाई फटकार

मैगलगंज, खीरी। कोतवाली मैगलगंज में आयोजित थाना समाधान दिवस में पहुंचे जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह व पुलिस अधीक्षक डॉ. एस चिनप्पा ने मौजूद अधीनस्थों की जमकर फटकार लगाते हुए लंबित मुकदमों के विषय में पूछताछ की। इस दौरान कोतवाली परिसर में महज दो प्रार्थना पत्र देख जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक खीरी का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने अधीनस्थों को मामलों को छिपाने की बजाय उनको हल और निपटारा करने की नसीहत दी।

यह भी पढ़ें :- सीएमओ-डीटीओ की जिद सामान्य मरीजों पर पड़ेगी भारी!

कोतवाली मैगलगंज में आयोजित थाना समाधान दिवस पर पहुंचे जिलाधिकारी खीरी शैलेंद्र सिंह व पुलिस अधीक्षक खीरी डॉ. एस चिनप्पा के सामने महज दो प्रार्थना पत्र दिखाई दिए, जिस पर जिलाधिकारी ने अधीनस्थों की फटकार लगाते हुए कहा यह बहुत ही असंभव बात है कि कोतवाली परिक्षेत्र में महज दो प्रार्थना पत्र आए इसका साफ आसय यह निकलता है कि या तो आपके द्वारा सही से काम नहीं किया जा रहा है या फिर आपके द्वारा मामलों को छिपाया जा रहा है। खैर जैसे तैसे जिलाधिकारी खीरी शांत हुए। तत्पश्चात पुलिस अधीक्षक खीरी ने कोतवाली प्रभारी मैगलगंज घनश्याम राम से अपराध रजिस्टर लाने के लिए आदेशित किया।

अपराध रजिस्टर में लंबित विवादों पर एसपी खीरी का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया और लंबित मुकदमों से जुड़े विवेचको को कड़ी फटकार लगाई। हालांकि बाद में कहीं न कहीं पुलिस कार्यालय लिपिक की लापरवाही दिखाई दी, पुलिस कार्यालय लिपिक के द्वारा लंबित मुकदमो पर फाइनल एंट्री नहीं किया गया था, जिसकी वजह से अत्याधिक मुकदमे व शिकायतें लंबित दिखाई दे रही थी।

यह भी पढ़ें :- प्रधानमंत्री बताएं, पीएनबी घोटाला कैसे हुआ: राहुल

समाधान दिवस में मौजूद लेखपाल नवनीत, कृष्ण कुमार ,सुशील कुमार, ब्रजेश वर्मा, हरिराम मिश्रा, श्यामनारायण सहित तमाम लेखपालों को बारी-बारी से खड़ा कर उनके क्षेत्र के गांव का विवाद, पट्टा, चकरोड, ग्राम समाज, श्रावस्ती मॉडल जैसे अनेकों समस्याओं के बारे में जानकारी लीऔर यह सुझाव भी दिया कि आप लोग मामलों को छिपाए नहीं उनको निपटाने का प्रयास करें, क्योंकि आप लोगों के द्वारा जो मामले छिपा लिए जाते हैं

वही आगे तहसील दिवस में या जिला मुख्यालयों पर प्रार्थना पत्रों की भरमार लग जाती है। यदि समय रहते हैं इनका निचले स्तर पर ही आप लोगों के द्वारा निराकरण कर दिया जाए तो फरियादी तहसील दिवस या जिला मुख्यालय के चक्कर लगाने को विवश नहीं होगा। तत्पश्चात जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने थाना परिसर में बने नवीन कक्ष का निरीक्षण किया और कोतवाली प्रभारी घनश्याम राम की तारीफ भी की। इस दौरान थाना परिसर में तमाम लोग मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें :- video: जनता दरबार में अधिकारी पर भडक़ीं केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी, सरेआम दी गाली


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *