पंजाब नेशनल बैंक में 11,330 करोड़ का फर्जीवाड़ा, 10 कर्मचारी निलम्बित

पंजाब नेशनल बैंक में 11,330 करोड़ का फर्जीवाड़ा, 10 कर्मचारी निलम्बित

बैंकिंग सेक्रेटरी राजीव कुमार ने कहा कि सरकार इस मामले पर नजर बनाए हुए है। जरूरत पडऩे पर फॉरेंसिक ऑडिट के आदेश दिए जा सकते हैं।


बैंकिंग सेक्रेटरी राजीव कुमार ने कहा कि सरकार इस मामले पर नजर बनाए हुए है। जरूरत पडऩे पर फॉरेंसिक ऑडिट के आदेश दिए जा सकते हैं।

मुंबई। एनपीए की समस्या से जूझ रहे सरकारी बैंकों के लिए एक नई मुसीबत खड़ी हो सकती है। दरअसल, बुधवार को पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा में 11,330 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। बैंक ने इस मामले में 10 कर्मचारियों को निलम्बित कर दिया है। वहीं, बैंकिंग सेक्रेटरी राजीव कुमार ने कहा कि सरकार इस मामले पर नजर बनाए हुए है। जरूरत पडऩे पर फॉरेंसिक ऑडिट के आदेश दिए जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें :- दलित छात्र की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के दूसरे सबसे बड़े बैंक पंजाब नेशनल बैंक ने करीब 11,330 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा पकड़ा है। पंजाब नैशनल बैंक ने यह फर्जीवाड़ा मुंबई की एक ब्रांच पकड़ा है। बताया जा रहा है कि कुछ चुनिंदा खाताधारकों को फायदा पहुंचाया जा रहा था। फर्जीवाड़े की खबर आने के बाद पंजाब नेशनल बैंक ने स्टॉक एक्सचेंज बीएसई को बताया कि यह फर्जीवाड़ा कुछ चुनिंदा खाता धारकों को फायदा पहुंचाने के लिए किया गया था। इन खातों के जरिए 11,330 करोड़ रुपए (1.8 अरब डॉलर) का ट्रांजेक्शन हुआ।

यह भी पढ़ें :- किसान ने खेत में लगाई लाल बिकीनी पहने सनी लियोनी की तस्वीर, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

न्यूज एजेंसी के मुताबिक,  बैंक ने इस मामले से जुड़े 10 कर्मचारियों को निलम्बित कर दिया है। उधर, बैंकिंग सेक्रेटरी राजीव कुमार ने कहा कि सरकार इस मामले पर नजर रखे हुए है। यदि जरूरत पड़ी तो फॉरेंसिक ऑडिट के आदेश दिए जा सकते हैं। वहीं, फाइनेंशियल सर्विसेज के सेक्रेटरी लोक रंजन का कहना है, मैं नहीं मानता कि यह मामला कंट्रोल के बाहर है और इस पर इतना चिंतित होने की जरूरत है। वित्त मंत्रालय ने पंजाब नेशनल बैंक में घोटाले का मामला सामने आने के बाद सभी बैंकों से इस मामले से जुड़े या हाल में हुए इस तरह के दूसरे मामलों पर रिपोर्ट मांगी है। मंत्रालय ने इस हफ्ते के आखिर तक यह स्टेटस रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है।

यह भी पढ़ें :- वैलेंटाइन डे पर सनकी आशिक ने युवती को मारी गोली, हालत गंभीर

बता दें कि पंजाब नेशनल बैंक पहले से ही इस तरह के फर्जीवाड़े की जांच कर रहा है। पिछले सप्ताह सीबीआई ने कहा था कि उसने पीएनबी की शिकायत पर अरबपति जूलर नीरव मोदी के खिलाफ जांच शुरू की है। दरअसल, पीएनबी ने जूलर और कुछ अन्य पर 4.4 करोड़ डॉलर के फर्जीवाड़े की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। यह पता नहीं चल पाया है कि मौजूदा खुलासा इसी मामले से जुड़ा है या इससे अलग है।

यह भी पढ़ें :- टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को हराकर रचा इतिहास


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *