सुंजवान आर्मी कैम्प हमला: सेना के पांच जवान शहीद, चार आतंकी ढेर

सुंजवान आर्मी कैम्प हमला: सेना के पांच जवान शहीद, चार आतंकी ढेर



सुंजवान आर्मी कैम्प हमला: सेना के पांच जवान शहीद, चार आतंकी ढेर
सुंजवान आर्मी कैम्प हमला: सेना के पांच जवान शहीद, चार आतंकी ढेर

नई दिल्ली। जम्मू के सुंजवान आर्मी कैम्प पर हुए हमले में पांच जवान शहीद हो गए हैं। वहीं, चार आतंकियों को ढेर कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि कैम्प में अभी भी एक या दो आतंकी छुपे हुए हैं। वहीं मुठभेड़ के दौरान एक नागरिक की भी मौत हो गई है, जिससे मृतकों की संख्या छह हो गई है। सुंजवान आर्मी कैम्प हमला: सेना के पांच जवान शहीद, चार आतंकी ढेर ..

जम्मू के सुंजवान आर्मी कैम्प पर शनिवार सुबह करीब चार बजे सेना की वर्दी में आए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने धावा बोल दिया। इस हमले में पांच सैनिक शहीद हो गए। जबकि महिलाओं, बच्चों सहित 11 अन्य लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि आतंकियों ने घरो में घुसकर सो रहे लोगों पर गोलीबारी की। सेना ने जवाबी कार्रवाई में अभी तक चार आतंकियों को मार गिराया गया है। बताया जा रहा है कि कुछ आतंकी अभी भी कैम्प में छिपे हुए हैं।

यह भी पढ़ें :- प्रदेश में गन्ने की खेती से जुड़े युवा बनेंगे उद्यमी

रक्षा विभाग की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, सुंजवान में जारी अभियान के हिस्से के रूप में सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया है। आतंकी सेना की वर्दी में थे और एके-56 राइफलों, ढेर सारे गोला-बारूद और हथगोलों से लैस थे। बयान में कहा गया है, उनके सामानों से इस बात की पुष्टि हुई है कि वे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी थे। बयान में कहा गया है कि परिसर के 150 घरों में से अधिकांश को खाली करा लिया गया है और उसके निवासियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। सभी आतंकियों के मारे जाने या गिरफ्तार किए जाने तक अभियान जारी रहेगा।

ये जवान हुए शहीद

  • जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) मदन लाल चौधरी
  • गैर कमीशंड अधिकारी (एनसीओ) अशरफ अली
  • हवलदार हबीब उल्लाह कुरैशी
  • नायक मंसूर अहमद
  • लांस नायक मोहम्मद इकबाल

एक नागरिक की मौत, 11 घायल

गोलीबारी में मारे गए नागरिक की पहचान मोहम्मद इकबाल के पिता के रूप में हुई है। घायल नौ लोगों में पांच महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। इसमें शहीद जेसीओ की बेटी भी है, जो स्कूल की छुट्टियां बिताने पिता के पास आई थी। घायलों में दो की हालत गम्भीर है।

अफजल की बरसी पर रच रहे थे हमले की साजिश

इससे पहले खुफिया रिपोर्ट में कहा गया था कि आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी संसद हमले के दोषी अफजल गुरू की पांचवीं बरसी पर हमले की साजिश रच रहे थे। अफजल गुरू को नौ फरवरी, 2013 को तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी।

सुरक्षाबल कभी हमें निराश नहीं करेंगे: राजनाथ

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू एवं कश्मीर के पुलिस महानिदेशक एसपी वैद से बात की। इसके बाद उन्होंने कहा कि सुरक्षाबल अपना काम कर रहे हैं और इसमें कोई संदेह नहीं है कि इस अभियान को अंजाम तक पहुंचाया जाएगा। वे हमें कभी निराश नहीं करेंगे।

हमले से व्यथित हूं: मुफ्ती

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस हमले पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि आज सुंजवान में हुए आतंकवादी हमले से व्यथित हूं। मेरी संवेदनाएं घायलों और उनके परिवारों के साथ हैं।

यह भी पढ़ें :- …और अब राहुल को दर्शाया कृष्ण तो पीएम मोदी को कौरव


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *