लखनऊ चिडिय़ाघर का बुजुर्ग गैंडा लोहित की मौत

लखनऊ चिडिय़ाघर का बुजुर्ग गैंडा लोहित की मौत



लखनऊ चिडिय़ाघर का बुजुर्ग गैंडा लोहित की मौत
लखनऊ चिडिय़ाघर का बुजुर्ग गैंडा लोहित की मौत

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में स्थित चिडिय़ाघर में वन्य जीवों की मौतों का सिलसिला लगातार जारी है। चिडिय़ाघर के इकलौते और खूंखार गैंडा में शुमार बुजुर्ग लोहित की मौत हो जाने से जू प्रशासन को तगड़ा झटका लगा है। जू प्रशासन की मानें तो लोहित के दांत गिर गए थे। वह पिछले 2 हफ्ते से बीमार था। सुबह तडक़े लोहित ने अंतिम सांस ली। गैंडा का डॉक्टरों की निगरानी में पोस्टमॉर्टम किया गया। लखनऊ चिडिय़ाघर का बुजुर्ग गैंडा लोहित की मौत…

लोहित का जन्म 1984 में हुआ था

जानकारी के मुताबिक, लखनऊ चिडय़िाघर में गैंडा लोहित का स्वास्थ्य काफी दिनों से बिगड़ा हुआ था। चिडिय़ाघर के अकेले गैंडा लोहित ने गुरुवार को खाना बंद कर दिया था। वह पानी और गन्ना के रस पर ही रह रहा था। लोहित का इलाज लखनऊ और कानपुर चिडय़िाघर के विशेषज्ञों की निगरानी में चल रहा था। उसके इलाज के लिए केन्द्रीय चिडिय़ाघर प्राधिकरण (सीजीएए), नई दिल्ली और भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) बरेली से भी परामर्शकर्ता आए हुए थे। लोहित का जन्म 1984 में हुआ था।

यह भी पढ़ें :- राहुल बोले, मोदी पहले पीएम हैं जिनके शब्दों का कोई मतलब नहीं

वर्तमान में उसकी उम्र 34 वर्ष थी। बुढ़ापे के कारण वह काफी कमजोर हो गया था। लोहित पिछले एक महीने से अच्छी तरह खाना नहीं खा पा रहा था क्योंकि उसके दांत गिर गए थे। वह भूखा भी रहता था और उसका पाचन भी सही से नहीं हो पा रहा था इसके कारण वह काफी कमजोर हो गया था।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *