सीआरपीएफ का डिप्टी कमांडेंट दो बेटों के साथ गोमती नदी में कूदा

सीआरपीएफ का डिप्टी कमांडेंट दो बेटों के साथ गोमती नदी में कूदा



सीआरपीएफ का डिप्टी कमांडेंट दो बेटों के साथ गोमती नदी में कूदा
सीआरपीएफ का डिप्टी कमांडेंट दो बेटों के साथ गोमती नदी में कूदा

लखनऊ। राजधानी के मडिय़ांव थाना क्षेत्र में उस समय हडक़ंप मच गया जब एक सीआरपीएफ के डिप्टी कमांडेंट ने अपने दो बेटों के साथ गोमती नदी में छलांग लगा दी। गोमती में कूदने के बाद एक बेटे ने बाहर निकलकर राहगीरों की मदद से पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों को बुलाया उनकी तलाश की, गोताखोर उन्हें घंटों ढूंढने में जुटे रहे। थाना प्रभारी मडिय़ांव ने बताया कि पीडि़त का किसी बात को लेकर पत्नी से विवाद हुआ था इसके बाद उसने ये खौफनाक कदम उठाया है। फिलहाल मामले की पड़ताल की जा रही है। सीआरपीएफ का डिप्टी कमांडेंट दो बेटों के साथ गोमती नदी में कूदा…

यह भी पढ़ें :- कैराना से भाजपा सांसद हुकुम सिंह का निधन

जानकारी के मुताबिक, मडिय़ांव थाना क्षेत्र के घैला पुल के पास गोमती नदी में सीआरपीएफ डिप्टी कमांडेंट विशम्भर दयाल ने अपने दो बेटों के शनिवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे छलांग लगा दी। विशम्भर मलिहाबाद थानाक्षेत्र के जगदीशपुर गांव का रहने वाला है। किसी तरह अपनी जान बचाकर एक बेटा तेजस नदी से बाहर निकला और राहगीरों की मदद से पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस गोतोखोरों की मदद से उन्हें ढूंढने में घंटों जुटी रही, लेकिन सीआरपीएफ कमांडेंट और उनका एक बेटा वंश नहीं मिल सका।

यह भी पढ़ें :- स्वप्निल शुक्ला बने प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य

पुलिस के मुताबिक, इस घटना में पारिवारिक विवाद सामने निकलकर आ रहा है। पत्नी से विवाद के बाद वह घैला पुल पहुंचा और गोमती में छलांग लगा दी। फिलहाल पुलिस फोर्स गोताखोरों की मदद से दोनों के शव ढूंढने में जुटी रही। इस घटना के बाद कमांडेंट के घर में कोहराम मचा हुआ है। वहीं घैलापुर पर ये तमाशा देखने वालों की भीड़ लगी रही इससे यातायात भी बाधित होता दिखाई दिया।

यह भी पढ़ें :- पर्यावरण अध्ययन प्रशिक्षण में पढ़ाया जीवाणु-विषाणु का पाठ


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *