आतंक को समर्थन देने वाले हमारे मित्र नहीं: डोनॉल्ड ट्रंप

आतंक को समर्थन देने वाले हमारे मित्र नहीं: डोनॉल्ड ट्रंप



आतंक को समर्थन देने वाले हमारे मित्र नहीं: डोनॉल्ड ट्रंप
आतंक को समर्थन देने वाले हमारे मित्र नहीं: डोनॉल्ड ट्रंप

वॉशिंगटन। अमरिका ने आतंकियों के संरक्षण को लेकर पाकिस्तान को एक बार फिर कड़ी चेतावनी दी। अमेरिका ने कहा कि आतंकियों को समर्थन करने वाले कभी भी हमारे दोस्त नहीं हो सकते हैं। बता दें कि पिछले महीने ही ट्रंप प्रशासन ने पाकिस्तान को दो अरब डॉलर के सुरक्षा सहायता पर रोक लगा दी थी। ट्रंप ने उस वक्त आरोप लगाया था कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में इस्लामाबाद अपेक्षित कार्रवाई नहीं कर रहा है। आतंक को समर्थन देने वाले हमारे मित्र नहीं …

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने स्टेट ऑफ द यूनियन को सम्बोधित किया था। इसके बाद व्हाइट हाउस ने अपने बयान में कहा कि राष्ट्रपति ने पाकिस्तान की सुरक्षा सहायता पर रोक लगा दी है, जो कि सहायता प्राप्त करने वालों को लंबित संदेश है कि हम उनसे उम्मीद करते हैं कि वे आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमारा पूरा साथ देंगे। हालांकि, पाकिस्तान आतंकवाद को समर्थन देने के आरोपों से इनकार करता रहा है। वाइट हाउस के मुताबिक, ट्रंप कट्टरपंथी इस्लामिक आतंक और इसकी विचारधारा का खात्मा करने और इसका सामना करने के प्रयास को प्राथमिकता देंगे। बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति ट्रंप की सशर्त दक्षिण एशिया रणनीति के तहत आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह उपलब्ध न कराने की बात शामिल है जो पनाह आतंकी अफगानिस्तान और पाकिस्तान में मांगते हैं।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *