कासगंज हिंसा मामले में अब तक 112 गिरफ्तार, धारा 144 लागू

कासगंज हिंसा मामले में अब तक 112 गिरफ्तार, धारा 144 लागू



लखनऊ। प्रदेश के कासगंज में गणतंत्र दिवस पर तिरंगा यात्रा के बाद से शुरू हुआ हिंसा का दौर अभी थमा नहीं है। रविवार की सुबह भी आगजमी की घटना सामने आई है। उपद्रवियों ने कासगंज की एक दुकान में आग लगाई है। दूसरी तलाशी के दौरान पुलिस को एक घर से देशी बम और हथियार मिले हैं। डीजीपी मुख्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, अब तक कुल पांच अभियोग पंजीकृत किए गए हैं। पंजीकृत अभियोगों में अब तक कुल 112 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, चिन्हित व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित कर प्रभावी दबिशें दी जा रही है। कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए कासगंज शहर में धारा 144 लागू है। बता दें कि इस घटना में अभी तक एक व्यक्ति अभिषेक उर्फ चंदन गुप्ता (20) की मौत हुई है। जबकि नौशाद घायल अवस्था में जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती है।

यह भी पढ़ें :-  कासगंज हिंसा: राष्ट्रीय पर्व पर तिरंगा यात्रा निकालने के लिए इज़ाजत की जरूरत नहीं: डीजीपी

पूरी पुलिस व्यवस्था के बाद भी इस तरह की घटनाएं बड़े सवाल उठा रही हैं।  पुलिस प्रशासन लाख दावे करता रहा, लेकिन उपद्रवी भीड़ उनके सारे दावों को धता बताते हुए आगजनी जारी रखी। रविवार को भी उपद्रवियों ने कासगंज में कई दुकानों और घरों को निशाना बनाया।  जानकारी के मुताबिक, प्रभारी निरीक्षक ने थाना कोतवाली में चार नामजद अभियुक्त एवं 100-150 व्यक्ति अज्ञात पंजीकृत कराया गया, जिसमें चारों नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, सुशील कुमार गुप्ता निवासी गली शिवालय नदरई गेट, कासगंज ने थाना कोतवाली कासगंज में 20 नामजद एवं अज्ञात के विरुद्ध मुदकाम पंजीकृत कराया गया, जिसमें से छह नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, निसार अहमद ने थाना कोतवाली में 50-60 अज्ञात लोगों के मुकदमा पंजीकृत कराया गया।

यह भी पढ़ें :-  कासगंज: भडक़ाऊ बयान देने के मामले में हिंदू युवा वाहिनी नेता पर केस दर्ज

मामले में विवेचना प्रचलित है।  अब तक कुल पांच अभियोग पंजीकृत किए गए हैं। पंजीकृत अभियोगों में अब तक कुल 112 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं, चिन्हित व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित कर प्रभावी दबिशें दी जा रही है। कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए कासगंज शहर में धारा 144 लागू है।  प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ने बबलू के खिलाफ आम्र्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है।  बबलू के कब्जे से एक 12 बोर डीबीबीएल फैक्ट्री मेड गन एवं दो जीवित कारतूस बरामद किए गए। शहर में समुचित एवं सुदृढ़ पुलिस प्रबंध बनाये रखने हेतु स्थिति पर सतर्क दृष्टि रखी जा रही है। मौके पर अपर पुलिस महानिदेशक आगरा जोन अजय आनन्द एवं पुलिस महानिरीक्षक डीजीपी मुख्यालय डीके ठाकुर अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कैम्प किये हुए हैं। पुलिस/प्रशासनिक अधिकारी भ्रमणशील रहकर लोगों से संवाद कर रहे हैं। बाजार खुले हैं और स्थिति सामान्य बतायी जा रही है। बता दें कि इस घटना में अभी तक एक व्यक्ति अभिषेक उर्फ चंदन गुप्ता (20) की मौत हुई है। जबकि नौशाद घायल अवस्था में जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती है।

यह भी पढ़ें :-  कासगंज में हिंसा से इन तीन परिवारों पर टूटा आफत का पहाड़


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *