फैजाबाद में निर्माणधीन मॉल की दीवार ढ़ही, दो मजदूरों की मौत

फैजाबाद में निर्माणधीन मॉल की दीवार ढ़ही, दो मजदूरों की मौत



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

फैजाबाद। शहर के बेहद ही रिहायशी इलाके में बन रहे निर्माणाधीन माल की दीवार ढह जाने से उसके नीचे दबकर दो मजदूरों की मौत की सम्भावना जताई जा रही है। मृतक चाचा और भतीजा हैं, जो रायबरेली जिले के बताये जा रहे हैं जिनका नाम क्रमश: जियालाल व सुनील है। रेस्क्यू टीम द्वारा एक मजदूर का शव निकाल लिया गया है। जबकि दूसरे की तलाश जारी है। समाचार लिखे जाने तक रेस्क्यू टीम द्वारा बचाव और राहत कार्य अभी भी जारी है। जिले के डीएम व एसएसपी ने मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया।

यह भी पढ़ें :-  शिक्षकों ने मतदान करने की ली शपथ

जानकारी के अनुसार, नगर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत शहर के ज्यादा भीड़-भाड़ वाले अंगूरी बाग इलाके में तरंग परिसर में निर्माणाधीन मॉल का कार्य तेजी के साथ चल रहा था, जिसके दीवार की मिट्टी मजदूरों द्वारा हटायी जा रही थी कि अचानक उस मिट्टी की दीवार ढह गई और कई मजदूर उसके नीचे दब गए। मिट्टी हटाकर एक मजदूर का शव निकाल लिया गया है। बाकी अन्य की तलाश जारी है। घटना उस समय हुई जब निर्माणाधीन विशालकाय मॉल के बेसमेंट की मिट्टी मजदूरों द्वारा हटायी जा रही थी। उसी दौरान मिट्टी का एक बड़ा हिस्सा भरभराकर काम कर रहे मजदूरों के ऊपर गिर गया। जिसके नीचे मजदूर दब गए। घटना होते ही मौके पर चीख-पुकार मच गई, जिससे वहां पर अफरा-तफरी मच गई। तत्काल वहां पर साथ में काम कर रहे मजदूर उस ओर बचाव के लिए दौड़े जहां मिट्टी की दीवार ढ़ही थी। जगह सकरा होने के कारण राहत और बचाव कार्य में दिक्कतें भी हो रही थी। फिर भी बचाव व राहत-कार्य जारी रहा।

यह भी पढ़ें :-  गुरू हरिकिशन डिग्री कॉलेज में राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर दिलाई शपथ

वहीं घटना के तत्काल बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने फायर ब्रिगेड की मदद से मिट्टी हटाने का काम शुरू कर दिया था। मिट्टी के ढेर के नीचे से एक मजदूर का शव निकाल लिया गया है। जबकि अन्य की तलाश लगातार जारी है। वहीं काम करने के लिए संख्या बल कम होने और संसाधनों की कमी के कारण जिला प्रशासन ने आर्मी से मदद मांगी है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी फैजाबाद डॉ. अनिल कुमार पाठक ने बताया कि मौके पर पर्याप्त पुलिस तैनात कर राहत और बचाव कार्य किया जा रहा है, जिसमें एक मजदूर का शव मिट्टी के नीचे से निकाल लिया गया है और एक अन्य मजदूर के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। जिसे निकालने के लिए मिटट्ी हटाने का काम जारी है राहत का काम जल्दी संभव हो सके इसके लिए सेना से मदद मांगी गई है। घटना के निर्माण कार्य के दौरान हुई है प्राथमिक तौर पर पीडि़तों को राहत देने कार्य जारी है।

यह भी पढ़ें :-  दिव्यांगों के अधिकारों को लागू करें राज्य : सर्वोच्च न्यायालय

योगी के दरबार में उठेगा मजदूरों की मौत का मामला

जिले के सांसद लल्लू सिंह, महापौर ऋषिकेश उपाध्याय और भाजपा जिलाध्यक्ष अवधेश पांडेय ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया और इस दुखद घटना पर चिन्ता जतायी है। प्रतिनिधिमंडल के निरीक्षण के दौरान प्रथम दृष्टया इस घटना में  बहुत बड़ी लापरवाही निकल कर सामने आयी है, जिसका मामला वह मुख्यमंत्री के दरबार में उठाएंगे। मौके पर कई प्रत्यक्षदर्शियों ने सांसद, महापौर व भाजपा जिलाध्यक्ष से शिकायत भी की है कि मानक के अनुसार यह मॉल नहीं बन रहा था। सांसद लल्लू सिंह ने इस मामले में निष्पक्ष जांच व कारवाई का आश्वासन दिया है। वहीं महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने पीडि़त मजदूरों को हरसम्भव मदद का भरोसा दिलाया है।

जिलाध्यक्ष अवधेश पांडेय बादल ने बताया कि मामले के निरीक्षण के दौरान प्रथम दृष्टया लापरवाही का मामला सामने आया है। इसको मुख्यमंत्री के दरबार में उठाया जाएगा। विकास प्राधिकरण व निर्माणकर्ता की जिम्मेदारी है कि मानको के अनुसार निर्माण कराया जाय। मौके पर मिले कई प्रत्यक्षदर्शियों ने शिकायत किया कि बिना प्रोटेक्शन वाल के इतनी गहरी खुदाई की गयी थी। अगर बारिश हो जाती तो अगर बगल की दीवारे गिरने की सम्भावना थी। उन्होंने बताया कि भाजपा ने इस शिकायत को गम्भीरता से लिया है। अगर मामले में कोई दोषी है तो मामले की जांच कराकर उसके खिलाफ करवाई की जायेगी। मजदूरो को उचित मुआवजा दिलाने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों से बातचीत हुई है।

यह भी पढ़ें :-  अंडर-19 विश्वकप: क्वार्टर फाइनल में भारत व बांग्लादेश आमने-सामने


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *