यूपी दिवस का उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया उद्घाटन, ये होंगे कार्यक्रम

यूपी दिवस का उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया उद्घाटन, ये होंगे कार्यक्रम



लखनऊ। प्रदेश में प्रथम यूपी दिवस समारोह के तीन दिवसीय कार्यक्रम का शुभारम्भ उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू ने किया। इसके साथ ही लखनऊ महोत्सव का भी उद्घाटन किया। इस दौरान राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को करोड़ों रुपए की सौगात दी। उत्तर प्रदेश दिवस समारोह को नव निर्माण, नवोत्थान, नव कार्य-संस्कृति से जोड़ा गया है। इसके अलावा इस आयोजन के जरिए संकल्प से सिद्धि की ओर अग्रसर उत्तर प्रदेश और सबका साथ-सबका विकास के बिन्दु को प्रमुखता से उठाया गया है।

यह भी पढ़ें :-  दावोस में बोले मोदी, दुनिया के सामने तीन सबसे बड़ी चुनौतियां

प्रथम उत्तर प्रदेश दिवस के तीन दिवसीय कार्यक्रम के तहत उप राष्ट्रपति ने उत्तर प्रदेश राज्य के गठन पर अभिलेख प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। वहीं उत्तर प्रदेश दिवस पर लघु फिल्म का प्रदर्शन, ‘एक जिला एक उत्पाद’ योजना का शुभारम्भ, इस योजना की डॉक्यूमेन्ट्री का प्रदर्शन और पुस्तिका का विमोचन व ‘लोगो’ का अनावरण, लखनऊ की योजनाओं का शिलान्यास-लोकार्पण, नई सोलर पॉलिसी का शुभारम्भ, पोषण एप (गर्भवती महिला/नवजात शिशु के स्वास्थ्य परीक्षण के सम्बन्ध में) का लान्च और ग्राम्य विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री समग्र विकास योजना का शुभारम्भ किया गया।

यह भी पढ़ें :-  लविवि: अप्रैल में होगी बीएड प्रवेश परीक्षा

यूपी दिवस के अगले दिन यानि 25 जनवरी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कृषि प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा ‘जर्नी ऑफ किसान पाठशाला’ पुस्तिका एवं सीडी का विमोचन, कृषि विभाग की वेबसाइट का शुभारम्भ, मंडी समितियों के ट्रेडर्स-पंजीकृत कमीशन एजेण्ट के लिए ई-लाइसेंस सुविधा का उद्घाटन, किसानों के लिए बाजार मूल्य की खोज वेबसाइट का उद्घाटन किया जाएगा। इसके साथ ही वह कृषि तथा सम्बद्ध विभागों के किसानों को प्रशस्ति पत्र देनें के साथ वर्मी कम्पोस्ट, सोलर पम्प, एग्री जंक्शन, कस्टम हायरिंग लाभार्थियों को चयन पत्र का वितरण, चकबन्दी विभाग की वेबसाइट और चकबंदी वादों के कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली को लॉन्च करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 500 किसानों को अंश निर्धारित खतौनी का वितरण और पीएमजेजेवाई और पीएमएसवीवाई के अन्तर्गत 500 बीमित लाभार्थियों बीमा प्रमाण पत्रों का वितरण भी करेंगे। इसी दिन अपरान्ह से लेकर रात दस बजे तक बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित शिक्षकों की ट्रेनिंग कार्यक्रम तथा माध्यमिक शिक्षा व उच्च शिक्षा विभाग की प्रदर्शनी, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग और संस्कृति विभाग के विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होगा।

यह भी पढ़ें :-  बिना कानून का राज स्थापित किए प्रदेश का विकास नहीं हो सकता: अखिलेश

26 जनवरी का आगाज संस्कृति विभाग के विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों से होगा। इसके बाद शाम को समापन कार्यक्रम में राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दोनों उपमुख्यमंत्रियों डॉ. दिनेश शर्मा एवं केशव प्रसाद मौर्य शामिल होंगे। समापन समारोह में सूचना विभाग की वेबसाइट-सोशल मीडिया मैगजीन ‘ई-संदेश’ को लान्च किया जाएगा। इसके अलावा राज्य स्तरीय हथकरघा पुरस्कार वितरण (तीन राज्य स्तरीय पुरस्कार), मछुआ आवास निर्माण प्रमाण पत्र वितरण किया जायेगा। इसके बाद युवा संगम कार्यक्रम के अन्तर्गत 11 उत्कृष्ट प्रतिभागियों का प्रस्तुतिकरण के साथ उत्तर प्रदेश की महान विभूतियों को सम्मानित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :-  मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य किया जाए: वसीम रिजवी


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *