प्रधानमंत्री मोदी कर रहे अमेठी से सौतेला व्यवहार: राहुल गांधी

प्रधानमंत्री मोदी कर रहे अमेठी से सौतेला व्यवहार: राहुल गांधी



अमेठी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में अमेठी से सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। राहुल ने कहा कि अमेठी में जो फूड पार्क बना रहे थे, उसे मोदी सरकार ने बंद करा दिया। राहुल ने कहा कि अगर फूड पार्क बन जाता तो किसानों को आलू सडक़ों पर नहीं फेंकना पड़ता। बता दें कि राहुल ने अमेठी में 200 करोड़ की लागत वाले एक मेगा फूड पार्क की बुनियाद रखी थी। इसमें फूड प्रोसेसिंग की 50 यूनिट लगनी थी। फुरसत गंज एयर स्ट्रिप से प्रोसेस्ट फूड बाहर भेजने के लिए कार्गो टर्मिनल बनने की भी बात थी, लेकिन नई सरकार ने उसे बंद कर दिया।

यह भी पढ़ें :- बगदाद में दोहरे बम विस्फोट में 26 की मौत, 75 घायल

कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी का पहला अमेठी दौरा है। राहुल ने इस दौरान काफी लम्बा रोडा शो भी किया। रोड शो के बाद राहुल ने जनसभा को सम्बोधित किया। राहुल ने कहा कि जनसभा में किसानों का मुद्दा उठाया। राहुल ने मोदी सरकार पर अमेठी से सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। राहुल ने कहा कि अमेठी में जो फूड पार्क बना रहे थे, उसे मोदी सरकार ने बंद करा दिया। राहुल ने कहा कि अगर फूड पार्क बन जाता तो किसानों को आलू सडक़ों पर नहीं फेंकना पड़ता। राहुल ने जनसभा में किसानों से कहा कि मैं आलू किसान से पूछना चाहता हूं, आपकी क्या हालत है, आपको क्या दाम मिलता है? प्रधानमंत्री मोदी ने वादा किया था कि सही दाम मिलेगा और आपको आलू फेंकना पड़ रहा हैं।

यह भी पढ़ें :- टीवी शो में काम नहीं करना चाहती: शिल्पा शिंदे

राहुल ने कहा कि किसान पूरे देश में परेशान हैं। राहुल गांधी ने सलोन की जनसभा में कहा कि आप बता दो कि मोदी जी की कौन सी योजना ने आपको फायदा पहुंचाया। एक के बाद एक झूठ। 15 उद्योगपतियों का कर्जा माफ करने जा रहे हैं। गुजरात में युवाओं को यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए 15 लाख देना पड़ता है। राहुल का दौरा मंगलवार को  भी जारी रहेगा। राहुल ने अमेठी में बहुत लम्बा रोड-शो किया। इस दौरान उनका जगह-जगह उनका स्वागत किया गया। रास्ते में राहुल हनुमान जी के एक मंदिर में दर्शन के लिए भी गए। वहीं, भाजपा कार्यकर्ताओं ने सलोन और अमेठी में राहुल गांधी का विरोध किया। इस दौरान अमेठी में काले झंडे लहराए। इसे लेकर कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं से झड़प भी हुई।

यह भी पढ़ें :- विदेशी भक्तों ने अयोध्या में किया शनि संकट मोचन मंदिर का उद्घाटन

बता दें कि भाजपा राहुल के किले में सेंध लगाने के लिए अमेठी में काफी मेहनत कर रही है। स्मृति ईरानी से लेकर अमित शाह तक यहां राहुल के खिलाफ जुटे हुए हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अमेठी और रायबरेली के अलावा बाकी सारी सीटें हार गई है और अब तो केंद्र के साथ-साथ प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है, ऐसे में अमेठी में राहुल के लिए चुनौतियां बढ़ी हैं।

यह भी पढ़ें :- गुजरात में बेघर होने से बच गए प्रधानमंत्री मोदी : मायावती


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *