युवाओं को बनाना होगा आजादी के दीवानों के सपनों का भारत: मोदी

युवाओं को बनाना होगा आजादी के दीवानों के सपनों का भारत: मोदी

युवाओं ने अपनी ऊर्जा, तेवर और अभियान से समाज के सामने प्रस्तुत किया एक नया आदर्श : योगी


युवाओं ने अपनी ऊर्जा, तेवर और अभियान से समाज के सामने प्रस्तुत किया एक नया आदर्श : योगी

नोएडा-गौतमबुद्ध नगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि इस बार महोत्सव कि थीम ‘संकल्प से सिद्धि’ रखा गया है। इसलिए आज मैं संकल्प से सिद्धि पर युवाओं से बात करूंगा। उन्होंने कहा कि देश का युवा ही भविष्य तय करता है। आज जो आप संकल्प लेंगे वहीं सिद्धि होगा। मोदी ने कहा कि 2022 में हमारा देश अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरा करेगा। हम स्वतंत्रता के आंदोलन में हिस्सा नहीं ले पाए, क्योंकि उस समय हम पैदा नहीं हुए थे। इसलिए हमारी बहुत बड़ी जिम्मेदारी बनती है कि जिस भारत का सपना उस समय आजादी के दीवानों ने देखा था, उस भारत को हम बनाएं।

यह भी पढ़ें :- शादी का झांसा देकर मेडिकल कॉलेज की प्रोफेसर से दुष्कर्म, बनाई सीडी

गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में आयोजित चार दिवसीय राष्ट्रीय युवा महोत्सव का शुक्रवार को शुभारम्भ हो गया। जहां समारोह में मौजूद तकरीबन 5000 युवाओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संम्बोधित किया। वहीं, विवि पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन से युवाओं को ऊर्जा से भर दिया। मोदी ने कहा कि भारत का नागरिक जहां भी जाता है वह अपना और देश का नाम रोशन करता है। उन्होंने कहा कि वह अपने काम का लोहा मनवाता है। प्रधानमंत्री ने युवाओं से आह्वान किया कि खेल को वे अपने जीवन का हिस्सा बना लें। मोदी ने कहा कि यूपी की कमान युवा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में है। चुटकी लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी भी कम खिलाड़ी नहीं हैं। ट्विटर के खेल में योगी ने अच्छे-अच्छे खिलाडिय़ों को पछाड़ा है। उन्होंने कहा कि युवाओं के लिए सरकार के पास कई योजनायें हैं। 10 करोड़ का लोन मंजूर किया गया है। पीएम मुद्रा कोष के तहत लोन दिया गया है। मोदी ने कहा कि देश के नौजवानों पर मुझे, सरकार और देश की सवा सौ करोड़ जनता का भरोसा है के आप जो ठान लोगो उसे पूरा करोगे। आपको देश की सवा सौ करोड़ की जनता के सपने पूरे करने होंगे।

यह भी पढ़ें :- नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती धूमधाम से मनाई जाएगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये 22वां युवा महोत्सव है और मैं देख रहा हूं कि इसमें लगभग आधी से अधिक संख्या हमारी बलिकाओं, बेटियों और बहनों की है। यह उभरते हुए भारत की तस्वीर है, जो महिला सशक्तीकरण के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी के ’संकल्प से सिद्धि’ मंत्र की ओर हम सबको प्रेरित कर रही है। योगी ने कहा कि जब हम युवाओं की बात करते हैं तो सचमुच भारत दुनिया का सबसे युवा राष्ट्र के रूप में प्रतीत होता है। इस देश की युवाशक्ति ने अपनी उर्जा, तेवर और अभियान से समाज के सामने एक नया आदर्श प्रस्तुत किया है। कोई भी ऐसा क्षेत्र नहीं है जिसमें हमारे युवाओं ने अपनी पहचान, प्रतिभा और धमक से लोहा न मनवाया हो।

यह भी पढ़ें :- मंजिल तक पहुंचने के लिए अपना रास्ता खुद बनाना होगा: शशिबाला

उन्होंने कहा कि यह मायने नहीं रखता कि आपकी उम्र कितनी है, क्योंकि कम उम्र में भी कई लोगों ने ऐतिहासिक कार्य किए हैं। भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस, अशफाक उल्लाह, खालसा पंत की स्थापना करने वाले गुरु गोविन्द सिंह जी और रानी लक्ष्मीबाई जैसे महान व्यक्तियों ने युवावस्था में ही अद्वित्य योगदान दिया था। योगी ने कहा कि याद कीजिए स्वामी विवेकानंद को जिनकी जयंती पर यह युवा महोत्सव आयोजित हो रहा है। उन्होंने भारत की जो सरल और वैज्ञानिक व्याख्या है, उसको दुनिया के सामने प्रस्तुत किया। उन्होंने देश और दुनिया के सामने आदर्श प्रस्तुत किया। इसीलिए रवींद्र नाथ टैगोर ने कहा था कि अगर भारत को जानना है तो हमें स्वामी विवेकानंद को पडऩा पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जब व्यक्ति लाभ-हानि, जीवन-मरण, अच्छे-बुरे के भाव को ध्यान में न रखकर केवल सकरात्मक दिशा में आगे बढऩे का प्रयास का करता है, तो कभी असफलता उसके सामने नहीं आती और सफलता उसके कदमों को चूमती है।

यह भी पढ़ें :- प्रख्यात साहित्यकार एवं जनवादी लेखक दूधनाथ सिंह का निधन

 


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *