एनआरएचएम घोटाले के आरोपी पूर्व सीएमओ डॉ. पवन श्रीवास्तव ने की खुदकुशी

एनआरएचएम घोटाले के आरोपी पूर्व सीएमओ डॉ. पवन श्रीवास्तव ने की खुदकुशी



गोरखपुर। एनआरएचएम घोटाले के आरोपी सेवानिवृत्त डॉ. पवन श्रीवास्तव ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उनका शव गोरखनाथ थाना क्षेत्र के विवेकपुरम कॉलोनी स्थित उनके आवास में पड़ा मिला।

यह भी पढ़ें :- जहरीली शराब पीने से दस लोगों की मौत, दो भर्ती

जानकारी के मुताबिक, एनआरएचएम घोटाले के आरोपी पूर्व सीएमओ डॉ. पवन श्रीवास्तव ने बुधवार शाम गोरखनाथ थाना क्षेत्र के बालस्थली इलाके स्थित विवेकपुरम कॉलोनी में अपने आवास में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वह अवसाद में चल रहे थे। डॉ. श्रीवास्तव 2010 में उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य सेवाएं में निदेशक के पद से रिटायर हुए थे। डॉ. पवन श्रीवास्तव कुशीनगर और सीतापुर में सीएमओ रह चुके थे। उन पर एनआरएचएम घोटाले में शामिल होने का आरोप था। इस मामले में उनकी हर माह सीबीआई कोर्ट में पेशी होती थी। थी। इस माह 15 जनवरी को सीबीआई कोर्ट दिल्ली में उन्हें पेश होना था। बताते हैं कि रिटायरमेंट और पत्नी की मौत के बाद डिप्रेशन में चल रहे थे। बुधवार शाम उन्होंने लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार ली। सूचना मिलने पर पहुंची  पुलिस जांच में जुटी है।

यह भी पढ़ें :- शिक्षक ने की रसोइया से दुष्कर्म की कोशिश

बता दें कि राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) के मद में केंद्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश को 8657 करोड़ रुपए दिए गए थे, लेकिन छह वर्ष की अवधि में अधिकारियों व चिकित्सकों ने पांच हजार करोड़ रुपए का घोटाला कर डाला। इस खुलासा नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट में हुआ। इस घोटाले की जांच सीबीआई को सौंपी गई। तब घोटाले में मंत्री, राजनेता व वरिष्ठ अधिकारियों के शामिल होने का पता चला। इस घोटाले में अब तक पांच लोगों की हत्या की जा चुकी है। इस मामले की जांच के दौरान लखनऊ में लगातार दो सीएमओ विनोद आर्या और वीपी सिंह की हत्या कर दी गई थी। दोनों की हत्या के आरोप में एक अन्य चिकित्सा अधिकारी वाई एस सचान को गिरफ्तार किया गया था। लेकिन लखनऊ जेल में उनकी भी रहस्यमय तरीके से मौत हो गई। उनकी मौत का कारण आत्महल्या माना गया, लेकिन सचान के शरीर पर चोट के निशान पाए गए थे। इसके अलावा घोटाले के आरोपी तीन अन्य लोगों की भी हत्या की जा चुकी है।

यह भी पढ़ें :- किसानों से मिलने मंडोला जा रहे राजबब्बर हुए गिरफ्तार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *