नये साल में इसरो की पहली उड़ान, भारत 12 जनवरी को 31 उपग्रह छोड़ेगा

नये साल में इसरो की पहली उड़ान, भारत 12 जनवरी को 31 उपग्रह छोड़ेगा



 

बेंगलुरू। भारत 12 जनवरी को पृथ्वी अवलोकन उपग्रह काटरेसैट सहित 31 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा। पहले इसके लिए 10 जनवरी की तिथि निर्धारित थी। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के जनसंपर्क निदेशक देवी प्रसाद कार्णिक ने सोमवार को बताया कि हमने एक साथ काटरेसैट और अन्य उपग्रहों को ले जाने के लिए सुबह 9.30 बजे रॉकेट प्रक्षेपण का समय निर्धारित किया है। इनमें से 28 उपग्रह अमेरिका और पांच अन्य देशों के होंगे।

यह भी पढ़ें :- एटीपी रैंकिंग: नडाल शीर्ष पर बरकरार

कार्णिक ने कहा कि इस बार प्रस्तावित समय में देरी नहीं की जाएगी। इससे पहले लांच करने के लिए प्रस्तावित 10 जनवरी की तिथि अस्थायी थी। रॉकेट इसरो के स्पेसपोर्ट आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा से लांच किया जाएगा। वर्ष 2018 में पीएसएलवी का यह पहला मिशन है, जिसके अंतर्गत अंतरिक्ष अभियान के तहत ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी-सी40) के जरिए 31 उपग्रह लॉन्च किए जाएंगे। इस अभियान से चार महीने पहले 31 अगस्त को इसी तरह का रॉकेट पृथ्वी की निचली कक्षा में भारत के आठवें नौवहन उपग्रह को पहुंचाने में विफल रहा था। इस मिशन में काटरेसैट-2 के अलावा भारत का एक नैनो उपग्रह और एक माइक्रो उपग्रह भी लॉन्च किया जाएगा। काटरेसैट-2 एक पृथ्वी अवलोकन उपग्रह है, जो उच्च-गुणवत्ता वाला चित्र प्रदान करने में सक्षम है, जिसका इस्तेमाल शहरी व ग्रामीण नियोजन, तटीय भूमि उपयोग, सडक़ नेटवर्क की निगरानी आदि के लिए किया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें :- ‘पद्मावत’ के रूप में ‘पद्मावती’ 25 जनवरी को रिलीज होगी


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *