600 से अधिक पक्षियों के साथ सात तस्कर गिरफ्तार, तीन फरार

600 से अधिक पक्षियों के साथ सात तस्कर गिरफ्तार, तीन फरार



लखनऊ। प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) राजधानी लखनऊ में दशकों से चले आ रहे अवैध पक्षी व्यापार में लिप्त सात तस्करों को गिरफ्तार किया है। तस्करों के पास से कई प्रजातियों के 600 से अधिक पक्षी बरामद किए गए हैं। हालाकि मौके से तीन तस्कर भाग निकले, जिनकी पहचान कर ली गई है। सभी तस्कर लखनऊ के ही रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें :- एक सप्ताह बाद निकली हल्की धूप, बाजारों में दिखाई दी भीड़

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ अभिषेक सिंह के मुताबिक, प्रदेश वन विभाग के पुलिस महानिरीक्षक ने एसटीएफ को पुराना लखनऊ व चौक क्षेत्र में व्यापक स्तर पर अवैध पक्षियों की तस्करी और बिक्री किए जाने की सूचना दी थी और इस मामले में सहयोग मांगा था। उसके बाद से जांच कर रही टीम पक्षी तस्करों पर नजर रख रही थी। जांच में अहम जानकारियां जुटाने के बाद निरीक्षक राजेश चंद्र त्रिपाठी व हेमंत भूषण के नेतृत्व में गठित टीम ने तस्करों की गहन निगरानी शुरू कर दी। टीम को पता चला कि तोतों की कई प्रजातियां खीरी, सीतापुर व शाहजहांपुर से लाई जाती हैं। परिन्दों की सर्वाधिक मांग का पक्षी सिनेबाज है, जिसकी आपूर्ति प्रायं बांदा, चित्रकूट के जंगलों से होती है। यह भी पता चला की पकड़े गए लोगों का सम्बन्ध पटना व कोलकाता के व्यापारियों से भी हैं, जहां ऊंचे दामों पर इन पक्षियों की सप्लाई की जाती है। टीम जांच कर रही थी, तभी शनिवार को एक सटीक सूचना पर पुलिस को साथ लेकर एसटीएफ व वन विभाग की संयुक्त टीम ने थाना चौक क्ष़ेत्रांतर्गत नक्खास में पक्षी बिक्री के स्थानों पर अचानक छापेमारी की और वहां से इन सातो तस्करों को पकड़ा।

यह भी पढ़ें :- लोहिया इंस्टीट्यूट की सीटी स्कैन मशीन खराब, मरीज परेशान

पूछताछ पर कैलाशपति बहेलिया ने बताया कि वह अपने पिता राजपति के साथ पिछले कई वर्षों से पक्षियों का कारोबार करता है। उसके बंधे हुए बहेलिया आपूर्तिकर्ता हैं, जो मांग के अनुसार चिडिय़ों का शिकार कर उपलब्ध कराते हैं, जिन्हें ऊंचे दामों पर बेचकर अवैध मुनाफा कमाता है। कैलाशपति ने बताया कि इस बाजार के सबसे पुराने व्यापारी रामऔतार व लाला हैं जो आज छापा पड़ते समय अपनी अपनी दुकानों से भाग गए हैं। रामऔतार का लडक़ा श्यामधन बहेलिया हम लोगों के साथ पकड़ा गया है।

यह भी पढ़ें :- तेज रफ्तार कार ने साइकिल सवार को मारी टक्कर, मौत

वन विभाग के मुताबिक रामऔतार पर पहले भी अवैध पक्षी व्यापार के सम्बन्ध में सात मुकदमे दर्ज हैं। लाला व राजकुमार पर भी कई मुकदमे दर्ज होने की जानकारी मिली है। उन्होंने बताया कि  गिरफ्तार तस्करों के विरूद्ध अवध वन प्रभाग, लखनऊ के सिटी रेंज, कुकरैल में वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के  तहत मुकदमा दर्ज कर कर कार्यवाही की जा रही है।

इन्हें किया गया गिरफ्तार

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ अभिषेक सिंह के मुताबिक, तस्करों में पिता राजपति बहेलिया, बेटा कैलाशपति बहेलिया, श्यामधन बहेलिया, कैलाश बहेलिया, राजेन्द्र बहेलिया, कल्लू कुरैशी निवासीगण सआदतगंज, लखनऊ और मेराज अंसारी निवासी थाना ठाकुरगंज लखनऊ है।

ये हो गए फरार

फरार हुए इनके साथी रामकुमार बहेलिया, लाला और रामऔतार है, जिनकी तलाश की जा रही है।

ये किया गया बरामद

इन लोगों के पास से 108 तोते,  425 मुनिया, 35 तीतर, 137 बटेर, चार गौरैया, 65 जंगली कबूतर, एक-एक महोख, जंगली कौवा, फाख्ता  व बगुला, 15 हारिल, दो सलेहरी, 21  टुइयां और दो बया, 1,62,170 रुपए की नकदी, पांच मोबाइल बरामद हुए।

यह भी पढ़ें :-पाकिस्तान के राष्ट्रगान के सम्मान पर चार क्रिकेटर गिरफ्तार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *