एक सप्ताह बाद निकली हल्की धूप, बाजारों में दिखाई दी भीड़

एक सप्ताह बाद निकली हल्की धूप, बाजारों में दिखाई दी भीड़

बुजुर्गों और बच्चों ने लिया धूप का आनंद


बुजुर्गों और बच्चों ने लिया धूप का आनंद

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। एक जनवरी को शुरू हुई कंपकपाती सर्दी और घना कोहरा एक सप्ताह बाद रविवार को कोहरे की परत छटने के बाद निकली धूप में सर्दी से राहत मिली, जिससे जनजीवन कई दिनों बाद सामान्य हो सका। लोगों ने कई दिन से रुके कामकाज निपटाए। बुजुर्गों ने भी रजाई से निकलकर धूप का आनंद लिया। बच्चे मैदान में आकर जमकर खेले। महिलाओं ने भी कामकाज निपटाये। तेज धूप में चलती ठंडी हवाएं भी लोगों को धूप में आने से रोक नहीं सकी।

यह भी पढ़ें :- सेंट्रल बार एसोसिएशन का नामांकन सोमवार से, मतदान 16 जनवरी को

नव वर्ष 2018 के आगमन के दिन घने कोहरे के साथ एकाएक सर्दी बढ़ गई और धुंध के साथ दिनभर ठिठुरन बनी रही। बाहर बर्फीली हवा सूर्यदेव बादलों के पीछे छिप गए। लिहाजा दिनभर बदली छायी रही और जनजीवन कमरों से लेकर अलाव के आसपास कैद होकर रह गया। एक सप्ताह बाद रविवार को दोपहर में धीरे-धीरे सूरज की गर्मी बढ़ी और आसमान साफ हो गया। कई दिनों से कोहरे के चलते सर्दी से सिकुड़ रहे लोगों ने धूप की गर्मी पाकर अपने कामकाज निपटाने के लिए बाजारों में आकर कई दिन से रुके कार्यो को पूरा किया। जिसका असर बाजारों में भीड से दिख रहा था। हर तरफ खरीदारों की चहल-पहल दिख रही थी।

यह भी पढ़ें :- सहकारी गन्ना समिति में किसान नेताओं की भूख हडताल जारी

बुर्जुगों ने बंद कमरों से बाहर निकलकर धूप में बैठे नजर आये वहीं घरों में महिलाओं ने भी साफ-सफाई कर छतों पर बैठ धूप का आनंद लिया। बच्चों ने मैदानों में आकर जमकर उछलकूद की। धूप की तेजी ने लोगों को गरमाहट देकर तरोताजा किया। वैसे तो दिन भर लोगों को अपेक्षाकृत ठंड से खासी राहत महसूस हुई पर शाम को ठंड के तेवर में तल्खी का आलम दिखायी दिया। गरीब गुरबों के लिए यह ठंडक किसी कहर से कम नहीं थी। जगह- जगह लकड़ी, टायर आदि जलाकर व प्रशासन द्वारा जलाए गए अलाव की गर्माहट लेते नजर आए।

यह भी पढ़ें :- दस वर्षीय बालिका से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *