स्वच्छता समाज का मंत्र और जीवन का हिस्सा बनना चाहिए: योगी

स्वच्छता समाज का मंत्र और जीवन का हिस्सा बनना चाहिए: योगी

मुख्यमंत्री ने बाल स्वच्छता रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना


मुख्यमंत्री ने बाल स्वच्छता रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

वाराणसी। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्वच्छता समाज का मंत्र और जीवन का हिस्सा बनना चाहिए। उन्होंने कह कि प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत मिशन के अभियान का हिस्सा बनकर स्वच्छ और सशक्त भारत की परिकल्पना को साकार करना है।

यह भी पढ़ें :- अब बजट सत्र में पारित हो सकता है तीन तलाक विधेयक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को वाराणसी दौरे के अपने दूसरे दिन सर्किट हाउस में बाल स्वच्छता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के बाद आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। स्कूल तथा आंगनबाड़ी शौचालयों को जिला स्वच्छता समिति की निगरानी में स्वच्छ के उद्देश्य से बाल स्वच्छता रथ की शुरुआत की गई है। मुख्यमंत्री ने सदर, पिंडरा एवं राजातालाब तहसीलों के लिए चिरईगांव, हरहुआ एवं अराजीलाइन के बाल स्वच्छता रथ के माध्यम से स्वच्छता का संदेश देने वाले बच्चों एवं सफाईकर्मियों को ध्वनि विस्तारक यंत्र, सीटी आदि भी उपलब्ध कराई। बाल स्वच्छता रथ प्रतिदिन विकास भवन से निकलकर तहसील में स्थित एक न्याय पंचायत के सभी स्कूल तथा आंगनवाड़ी शौचालयों का निरीक्षण करेगा। यदि शौचालय गंदा है, तो तत्काल उसकी सफाई सफाईकर्मी द्वारा की जाएगी। स्वच्छता रथ बच्चों में पम्पलेट बांटकर व्यक्तिगत स्वच्छता का प्रचार-प्रसार भी करेगा।

ग्राम चौकीदार अब होंगे ग्राम प्रहरी

मुख्यमंत्री योगी ने पुलिस लाइन में दस ग्राम चौकीदारों को सीटी, टॉर्च और डंडा भी उपलब्ध कराया। उन्होंने कहा कि ग्राम चौकीदार का नाम बदलकर ग्राम प्रहरी किया जा रहा है। योगी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाले अपराधों की सूचना पुलिस अधिकारियों तक पहुंचाने में ग्राम चौकीदार अहम भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस का जनता से संवाद यदि सौहार्दपूर्ण हो, तो जनता खुद भी सूचनाओं के आदान-प्रदान की महत्वपूर्ण कड़ी बन सकती है।

यह भी पढ़ें :- लालू ने चारा घोटाले में कम से कम सजा का अनुरोध किया


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *