भीषण ठंड और घने कोहरे के साथ हुआ नए वर्ष का स्वागत

भीषण ठंड और घने कोहरे के साथ हुआ नए वर्ष का स्वागत

बर्फीली हवाओं के चलते रजाई और अलाव बने सहारा


बर्फीली हवाओं के चलते रजाई और अलाव बने सहारा

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। भीषण सर्दी और घने कोहरे के साथ वर्ष 2018 का आगाज हुआ है। पिछले दो दिनों से छाए घने कोहरे के बाद एकाएक सर्दी बढ़ गई और धुंध के साथ दिनभर ठिठुरन बनी रही। बाहर बर्फीली हवा के चलते सूर्यदेव बादलों के पीछे छिप गए। लिहाजा दिनभर बदली छायी रही और जनजीवन कमरों से लेकर अलाव के आस-पास कैद होकर रह गया।

यह भी पढ़ें :- जरूरतमदों को गर्म कपड़े व कम्बल वितरित

रविवार को लोग वर्ष 2017 की विदाई और 2018 के स्वागत के लिए आतुर रहे। रात में लोगों ने केक काटकर नए साल का जश्न मनाया। सोमवार की सुबह जब लोग रजाई से बाहर निकले तो उन्हें कोहरे और कड़ाके की ठंड का अहसास हुआ। कोहरे की छायी बदली शाम तक बनी रही, वहीं बर्फीली हवाओं ने मौसम का मिजाज बिगाड़ दिया है।

यह भी पढ़ें :- नए साल पर सांई मंदिर पर हुआ भंडारा

पाला गिरने से सर्दी का रूख और तेज हो चला है। कोहरे और भीषण ठंड का का प्रकोप होने से सडक़ों पर यातायात व्यवस्था सामान्य रहा। जबकि सर्दभरी हवाओं ने यात्रियों को खूब परेशान किया। सोमवार की सुबह तडक़े चहुंओर घने कोहरे के कारण वाहन चालकों को लाइटें जलाकर चलने को मजबूर होना पड़ा और जरूरी कामों के लिए घरों से निकले लोग गर्म कपड़ों के लबादों में लिपटे और सर्दी से बचने के लिए लोग अलाव जलाकर तापते दिखाई देते हैं।

यह भी पढ़ें :- Happy New Year 2018: नशे की हालत में गाड़ी चलाने पर 200 हिरासत में


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *