तेज प्रताप बोले: नरेंद्र मोदी की खाल उधड़वा देंगे, लालू ने दी सफाई

तेज प्रताप बोले: नरेंद्र मोदी की खाल उधड़वा देंगे, लालू ने दी सफाई



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

पटना। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर दिए गए एक विवादित बयान के बाद बिहार में सियासी गरमी बढ़ गई है। लालू प्रसाद की सुरक्षा में कटौती करने के एक प्रश्न के जवाब में उनके पुत्र तेज प्रताप ने सीधे शब्दों में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खाल उधड़वा देंगे। इधर, तेज प्रताप के बयान के बाद लालू प्रसाद ने जहां सफाई दी है, वहीं बिहार में सत्ताधारी भाजपा और जद (यू) ने तेज प्रताप के बहाने लालू पर निशाना साधा है।

{ यह भी पढ़ें :  मनी लॉन्ड्रिंग मामला: लालू यादव की बेटी मीसा का फार्महाउस जब्त  }

तेज प्रताप ने यहां संवाददाताओं से कहा कि हम लोग कार्यक्रमों में जाते रहते हैं। लालू प्रसाद जी भी इन कार्यक्रमों में जाते रहते हैं। ऐसे में सुरक्षा वापस लेना, उनकी हत्या कराने की साजिश है। हम इसका मुंहतोड़ जवाब देंगे, नरेंद्र मोदी जी की खाल उधड़वा देंगे। उल्लेखनीय है कि लालू की सुरक्षा श्रेणी ’जेड प्लस’ से घटाकर ’जेड’ कर दी गई है। इस बयान के बाद बिहार की राजनीति अचानक गरम हो गई। बिहार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा के नेता सुशील कुमार मोदी ने सधे अंदाज में कहा कि कोई भी व्यक्ति अपनी पसंद की भाषा का इस्तेमाल कर सकता है, लेकिन जो लोग ऐसी भाषा का इस्तेमाल करते हैं, उन्हें देश के लोग ही सबक सिखाते हैं।

{ यह भी पढ़ें :  ‘भाजपा भगाओ-देश बचाओ’ रैली: तेजस्वी यादव से जलते थे नीतीश कुमार: लालू  }

इधर, लालू ने तेज प्रताप के बयान पर सफाई देते हुए कहा कि पिता को कोई साजिश में फंसाएंगे तो जवान बेटा बोलेगा ही। उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि यह सही नहीं है। इधर, जद (यू) के प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने कहा कि तेज प्रताप को लालू प्रसाद स्नातक की शिक्षा भी नहीं दिला पाए और विधायक बना दिए, लेकिन राजनीति में वे अपनी हैसियत भूल गए। उन्होंने कहा कि उनका पारिवारिक संस्कार कैसा है, यह मैं नहीं जानता। मुझे यह लगता है कि तेजस्वी यादव को जब लालू प्रसाद ने उपमुख्यमंत्री बनवा दिया और अब विधायक दल का नेता बनाया तो इनके घर में गृहक्लेश आरंभ हो गया। ऐसे बोलने वाले पुत्र से मां-पिता भी बोलने से परहेज करते हैं। उन्होंने कहा कि इस ढंग की भाषा का सार्वजनिक जीवन में इस्तेमाल, देश के प्रधानमंत्री पद पर किया जाना यह बताता है कि राजनीति के ’लंपटीकरण’ का जो आरोप लालू प्रसाद पर लगता रहा है वह अब अपना संस्कार अपने बेटे को भी दे दिए।

{ यह भी पढ़ें :  नीतीश की प्रवृति में ही धोखा देने की विकृति: तेजस्वी  }

कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री पद पर इस तरह की अमर्यादित टिप्पणी बताता है कि लालू का पूरा परिवार मानसिक राजनीतिक कारावास की स्थिति में है। ऐसे नेताओं से बिहार की जनता को भगवान ही बचाएं। उल्लेखनीय है कि कुछ ही दिन पहले तेज प्रताप यादव ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को लेकर विवादित बयान देते हुए कहा था कि वह सुशील मोदी के घर में घुसकर उन्हें मारेंगे। तेज प्रताप ने कहा था कि वह अगर सुशील मोदी के बेटे की शादी में जाते हैं, तो वहीं उनकी पोल खोल देंगे। इसके बाद सुशील मोदी ने अपने पुत्र की शादी के कार्यक्रम स्थल में भी बदलाव कर दिया है। सुशील मोदी के बेटे की शादी तीन दिसंबर को होने वाली है।

{ यह भी पढ़ें :  सुशील मोदी बोले, शहाबुद्दीन को पार्टी से निकालने की हिम्मत दिखाएं लालू  }


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *