एडीआर रिपोर्ट: महापौर पद के 10 फीसदी प्रत्याशी दागी तो 36 फीसदी करोड़पति

एडीआर रिपोर्ट: महापौर पद के 10 फीसदी प्रत्याशी दागी तो 36 फीसदी करोड़पति



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

लखनऊ। प्रदेश में हो रहे निकाय चुनावों में इस बार महापौर के 16 पदों के लिए मैदान में उतरे केवल 10 फीसदी उम्मीदवार ही दागी हैं। वहीं, 36 प्रतिशत प्रत्याशी करोड़पति हैं। इसी के साथ इस बार चुनावी मैदान में 41 फीसदी महिला उम्मीदवार हैं। महापौर पद के प्रत्याशियों का यह ब्यौरा मंगलवार को एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म व इलेक्शन वॉच (एडीआर) ने जारी किया है।

पेपर लीक कराने वाले साल्वर गैंग का सदस्य गिरफ्तार

इलेक्शन वॉच के संजय सिंह ने बताया कि एडीआर ने यूपी नगर निगम चुनाव-2017 में महापौर पद के लिए चुनाव लडऩे वाले 213 में से 195 के शपथ पत्रों का विश्लेषण किया। तीन चरणों में आयोजित किए जा रहे इस चुनाव में 18 उम्मीदवारों के शपथपत्र स्पष्ट न होने के कारण उनका विश्लेषण नहीं किया गया हैं। उन्होंने बताया कि महापौर पद के 195 में से 20 यानि (10 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। इनमें से 17 पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। दागी प्रतयाशियों की सूची को लेकर भाजपा आगे है। भाजपा के चार, बसपा के तीन और सपा व कांग्रेस के दो-दो और आप का एक प्रत्याशी दागी है। तीन उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्होंने अपने ऊपर हत्या के मामले दर्ज होने की सूचना दी है। उन्होंने बताया कि बरेली, इलाहाबाद और फैजाबाद दागी निर्वाचन क्षेत्र है। यहां तीन या तीन से ज्यादा उम्मीदवार ऐसे हैं, जिन्होंने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या, एक गिरफ्तार, दरोगा सस्पेंड

संजय ने बताया कि महापौर पद के लिए उतरे 195 में से 70 (36 प्रतिशत) करोड़पति उम्मीदवार हैं। जिनमें से सपा-कांग्रेस के 11 (73 प्रतिशत), भाजपा और बसपा के 14 उम्मीदवारों में से 11 (79 प्रतिशत), आप के आठ रालोद के दो उम्मीदवार करोड़पति हैं। इन प्रत्याशियों की औसतन सम्पत्ति 4.14 करोड़ रुपए है। औसत सम्पत्ति को लेकर बसपा सबसे आगे है। बसपा के 14 उम्मीदवारों की औसत सम्पत्ति 5.54 करोड़ रुपए है। वहीं, सपा 15 उम्मीदवारों की सम्पत्ति का औसत 4.34 करोड़ रुपये, कांग्रेस के 15 उम्मीदवारों की औसत सम्पत्ति 3.39 करोड़ रुपये, भाजपा के 14 उम्मीदवारों की 37.10 करोड़ रुपए और आम आदमी पार्टी के 13 उम्मीदवारों की सम्पत्ति 2.01 करोड़ रुपये है। वहीं रालोद के पांच उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 1.57 करोड़ है।

वेबसाइट बना ऑटो इन्श्योरेन्स करने वाली कम्पनी का पर्दाफाश, संचालक गिरफ्तार

सबसे बड़े करोड़पति भाजपा के आगरा मेयर प्रत्याशी नवीन जैन      हैं, उनके पास 409 करोड़ रुपए है। वहीं भाजपा उम्मीदवार अभिलाषा गुप्ता (इलाहाबाद) के पास भाजपा 58 करोड़ रुपए, बसपा उम्मीदववार बृजेन्द्र कु. व्यास (झांसी) के पास 37 करोड़ रुपये सपा की उम्मीदवार मीरा वर्धन ( लखनऊ ) के पास 18 करोड़ रुपये और सपा के ही बरेली से उम्मीदवार इकबाल सिंह तोमर के पास 12 करोड़ रुपए हैं। वहीं, कांग्रेस के तीन उम्मीदवार ऐसे है,जिनके पास कोई सम्पत्ति नहीं है। जिन्होंने अपनी सम्पत्ति शून्य घोषित की है।

खीरी: दारोगा जी को सिगरेट नहीं मिली तो दुकानदार को पीट दिया

90 प्रत्याशियों की शैक्षिक योग्यता स्नातक और इससे ज्यादा घोषित की है। 75 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता 5वीं और 12वीं के बीच घोषित की है। पांच प्रत्याशियों ने ड्राक्ट्रेट किया है। आठ निरक्षर और 10 प्रत्याशी साक्षर हैं। 52 फीसदी यानी 101 प्रत्याशियों की उम्र 41 से 60 वर्ष के बीच है तो 36 फीसदी यानी 70 प्रत्याशी 25 से 41 वर्ष के बीच हैं। नगर निगम मे 195 से 80 महिला उम्मीदवार चुनाव लड़ रही हैं।

आरएसएस कार्यकर्ता का शव बरामद, हत्या की आशंका


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *