उत्तर प्रदेश बनेगा देश के विकास का ग्रोथ इंजन: डॉ. राजीव

उत्तर प्रदेश बनेगा देश के विकास का ग्रोथ इंजन: डॉ. राजीव



लखनऊ। नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने बहुत तेजी से प्रगति की है। हां शहरी क्षेत्र में दिक्कतों और रियल स्टेट में परेशानियां हैं। प्राइवेट बिल्डर्स को लाना है। इस क्षेत्र में हमें और कोशिश करनी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री योगी से बात की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दिशा में कोशिश हो रही है। डॉ. राजीव ने कहा कि यदि हम इस दिशा में तेजी से काम करेंगे तो देश की आर्थिक गति और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि देश के विकास का यूपी ग्रोथ इंजन बनेगा।

निकाय चुनाव: अध्यक्ष पद के लिए पांच व सभासद के लिए 68 उम्मीदवारों ने कराया नामांकन

नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार शास्त्री भवन के मीडिया सेंटर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भी चाहते हैं कि प्रदेश देश के विकास की रीढ़ बने। डॉ. राजीव ने कहा कि ग्रामीण आवास योजना और खुले में शौच से मुक्ति में प्रदेश में बहुत अच्छा काम हुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने खुले में शौच से मुक्ति (ओडीएफ) को लेकर बहुत बड़ा लक्ष्य लिया है। उन्होंने कहा कि यदि देश को आगे बढऩा है, तो उत्तर प्रदेश को भी विकास के पथ पर तीव्रता से आगे बढऩा होगा। कहा कि यूपी देश के विकास का ग्रोथ इंजन बनेगा। एक सवाल के जबाव में उन्होंने कहा कि नीति आयोग पूर्व के योजना आयोग से एकदम अलग है। यह आयोग राज्यों के विकास सहयोगी के रूप में कार्य कर रहा है।

खीरी: फर्जीवाड़े में प्रधान, सचिव समेत चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का निर्देश

पहले बैठकें दिल्ली में होती थी। अब हम राज्यों में जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नीति आयोग के लिए यूपी बड़ी प्राथमिकता है। यूपी के विकास के लिए नीति आयोग हर स्तर पर प्रयास करेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री चाहते हैं कि सुधार हो। इसके लिए टाइम लाइन तथा फीडबैक जरूरी है। यूपी के पिछड़े 53 जिलों के विकास की दिशा में आयोग भी काम कर रहा है। यदि यह पिछड़े जिलें में काम हो गया तो देश चल पड़ेगा। डॉ. राजीव ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए भी आयोग सहयोग करेगा।

लविवि में समाजशास्त्रीय सम्मेलन नौ नवम्बर से, जानें पूरा कार्यक्रम

पत्रकार वार्ता के दौरान मुख्य सचिव राजीव कुमार ने कहा कि संस्तुति की गई है कि पूर्वांचल एक्सप्रेस को भारत सरकार टेकअप करे, लेकिन यदि किसी कारण वश भारत सरकार ऐसा नहीं कर पाई तो प्रदेश सरकार पूर्वांचल एक्सप्रेस और बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को अपने बूते पर बनाने के लिए कृत संकल्प है। इस दौरान देश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, प्रदेश के मुख्य सचिव राजीव कुमार और प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी भी उपस्थित थे।

‘भारत को जानों‘ प्रतियोगिता में विद्या निकेतन के बच्चों ने लहराया परचम


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *