90 के हुए आडवाणी, प्रधानमंत्री मोदी-राहुल समेत तमाम लोगों ने दी जन्मदिन की बधाई

90 के हुए आडवाणी, प्रधानमंत्री मोदी-राहुल समेत तमाम लोगों ने दी जन्मदिन की बधाई



नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के जन्मदिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि वह आडवाणी के अच्छे स्वास्थ की कामना करते हैं। वहीं, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने उन्हें शुभकामनाएं दीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी भाजपा के वरिष्ठ नेता को ट्वीट कर जन्मदिन की बधाई दी।

टीचर ने मासूम छात्रा से किया दुष्कर्म, गिरफ्तार

प्रधानमंत्री मोदी ने आडवाणी की तारीफ करते हुए लिखा कि वह ऐसे राजनेता हैं जिन्होंने देश के लिए काफी मेहनत से काम किया है। मोदी ने भाजपा के सभी कार्यकर्ताओं को आडवाणी जैसा नेता मिलने के लिए भाग्यशाली बताया। मोदी ने लिखा कि भाजपा को बनाने में आडवाणी का काफी योगदान है। प्रधानमंत्री मोदी के साथ-साथ केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, रेल मंत्री पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण, रमन सिंह, सुरेश प्रभु, सदानंद गौड़ा सभी ने आडवाणी को जन्मदिन की बधाई दी।

सर्राफ कारोबारी से 15 लाख के गहने लूट बदमाश फरार

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लाल कृष्ण आडवाणी को ट्वीट कर जन्मदिन की बधाई दी। उन्होंने कहा कि आपका दिन बेहतरीन हो। लालू प्रसाद यादव ने वरिष्ठ नेता आडवाणी को शुभकानाएं के साथ-साथ नसीहत भी दे डाली। लालू ने कहा कि यदि उनका कोई शिष्य बागी भी हो जाए तो उन्हें चिंता नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ईश्वर आपके आगे का जीवन प्रसन्नतापूर्ण, स्वस्थ, सुदीर्घ और सफल बनाएं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, लालकृष्ण आडवाणीजी को जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। उनका स्वस्थ एवं प्रसन्नतापूर्ण लंबा जीवन हो।

प्रेम विवाह करने वाले नव दम्पत्ति ने फांसी लगा दी जान

बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व उपप्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी का आज 90वां जन्मदिन है। आडवाणी को 1947 में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ का सचिव चुना गया था। उसके बाद वह 1970 में राज्य सभा सांसद चुने गए और 1986 में भाजपा के अध्यक्ष बने। उसके बाद वह 1989 में पहली बार लोकसभा पहुंचे और फिर विपक्ष के नेता बने। अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार (2002-2004) के वक्त वह उप प्रधानमंत्री थे। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करके वह सातवीं बार सांसद बने हैं।

कमल नहीं है भारत का राष्ट्रीय फूल!


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *