कमल नहीं है भारत का राष्ट्रीय फूल!

कमल नहीं है भारत का राष्ट्रीय फूल!



लखनऊ। भारत का कोई राष्ट्रीय फूल नहीं है। भारत सरकार की वेबसाइट पर प्रदर्शित सूचना झूठी है। यह हमारा नहीं इस बात का ‘आरटीआई गर्ल’ ऐश्वर्या पाराशर की ओर से दी गई आरटीआई के जबाव के तथ्य बता रहे हैं।

भाजपा महापौर प्रत्याशी संयुक्ता भाटिया ने किया नामांकन

केंद्र सरकार की वेबसाइट पर राष्ट्रीय पुष्प कमल को बताया जा रहा है। वहीं, पूरा भारत भी कमल को राष्ट्रीय पुष्प मानता है और यही बात सामान्य ज्ञान की सभी किताबों में बतायी जाती हैं, लेकिन आरटीआई गर्ल 15 वर्षीय ऐश्वर्या पाराशर ने जब  इस बात की जानकारी के लिए आरटीआई अर्जी दी तो उसका जबाव चौंकाने वाला था। भारत सरकार के पर्यावरण एवं वन मंत्रालय के अधीन कार्यरत संस्था भारतीय वनस्पति सर्वेक्षण के निदेशक के कार्यालय के जूनियर एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर और केंद्रीय जन सूचना अधिकारी तापस कुमार घोष द्वारा बीते दो नवंबर को 11वीं कर छात्रा ऐश्वर्या को दिए गए उत्तर में कहा कि भारत का कोई भी आधिकारिक राष्ट्रीय फूल  नहीं हैं।

फर्जी आधार बनाने वाले गिरोह का मास्टमाइंड दुर्गेश गिरफ्तार

ऐश्वर्या  बताती हैं कि उन्होंने राष्ट्रीय पुष्प के रूप में  कमल के जाने जाने की पुष्टि करने के लिए यह  आरटीआई बीते 17 अगस्त को  डाली थी। इसके जवाब में  अब उन्हें बताया गया है कि भारत का कोई राष्ट्रीय फूल नहीं है। ऐश्वर्या ने बताया कि अब वह प्रधानपंत्री नरेन्द्र मोदी पत्र लिखकर अनुरोध करेंगी कि वे या तो कमल को राष्ट्रीय पुष्प घोषित करने का आधिकारिक आदेश जारी करा दें या भारत सरकार की वेबसाइट पर राष्ट्रीय पुष्प के रूप में कमल को दिखाने वाली सूचना को तत्काल हटवाकर मिनिस्ट्री ऑफ एचआरडी को निर्देशित कर राष्ट्रीय पुष्प के संबंध में चले आ रहे है भ्रम को दूर करने के लिए शासनादेश जारी कर सामान्य ज्ञान में लंबे समय से चली आ रही त्रुटि को संशोधित कराएं।

तीन महीने में होगा एसडीआरएफ का गठन: डीजीपी


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *