टेबल टेनिस: शरत-साथियान ने बेल्जियम ओपन में जीता कांस्य

टेबल टेनिस: शरत-साथियान ने बेल्जियम ओपन में जीता कांस्य



दे हान, बेल्जियम। भारत के अग्रणी टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरत कमल और साथियान गनासेकरन ने यहां आयोजित प्रतिष्ठित 2017 चैलेंज बेल्जियम ओपन टेबल टेनिस टूर्नामेंट में कांस्य पदक जीता। भारतीय जोड़ीदारों को सेमीफाइनल में जर्मनी के पैट्रिक फ्रांजिस्का और रिकाडरे वाल्दर की जोड़ी से 2-3 से हार मिली।

गुजरात अक्षरधाम हमले का आरोपी गिरफ्तार

शरत कमल और साथियान अपना पहला गेम 7-11 से हार गए लेकिन उन्होंने शानदार वापसी करते हुए आगे के दो गेम 11-7, 11-5 से जीत लिए। हालांकि भारतीय जोड़ी अगले दो गेम में अपना लय नहीं बनाए रख सकी और 5-11, 5-11 से हार गई। इस तरह भारतीय जोड़ीदारों ने फाइनल में पहुंचने का स्वर्णिम अवसर गंवा दिया।

प्रधानमंत्री की टिप्पणी के बाद राहुल की हिमाचल रैली की घोषणा

भारत के सानिल शेट्टी ने भी शानदार प्रदर्शन करते हुए एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। सानिल ने अपने से ऊंचे वरीयता प्राप्त बेल्जियाई खिलाड़ी सेड्रिक नुटिंचक को 4-3 से हराया। सानिल ने यह मैच 11-8, 7-11, 12-10, 11-5, 2-11, 5-11, 11-9 के स्कोर के साथ जीता। इसके अलावा सानिल ने नौवें वरीय ताइपे के खिलाड़ी चेन टिंग लियाओ को 4-0 (8-11, 11-9, 12-10, 11-7, 11-7) से हराया। सानिल का विश्व वरीयता क्रम 180 है जबकि चेन का 72वां और सेड्रिक का 70वां है।

गुजरात अक्षरधाम हमले का आरोपी गिरफ्तार

सानिल हालांकि जर्मनी के रिकाडरे वाल्दर के हाथों हार गए और साथ ही पदक पाने का मौका भी गंवा बैठे। सानिल को रिकाडरे के हाथों 1-4 (7-11, 3-11, 11-5, 7-11, 6-11) से हार मिली। महिला वर्ग में भारत की जोड़ीदार मानिका बत्रा और मौमा दास ने भी क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। भारतीय जोड़ी ने ताइपे की यू वेन हुआंग तथा यू जुन ली को 3-2 (11-5, 9-11, 11-9, 10-12, 11-4) से हराया लेकिन वे ताइपे की एक अन्य जोड़ी ह्सेन जू चेंग और ह्सेन यिन लियू के हाथों 1-3 (6-11, 11-5, 9-11, 10-12) से हार गई। शरत कमल और साथियान ने सेमीफाइनल में पहुंचने की होड़ में बेल्जियम के थिबाउट डार्किस और लाउरिक जीन को 3-0 (11-7, 11-6, 11-7) से हराया। इसके बाद इस जोड़ी ने स्वीडन के हेराल्ड एंडरसन और साइमन एर्विडसन को भी 3-0 (11-8, 11-8, 11-6) से मात दी।

एनटीपीसी मामला: मुख्यमंत्री योगी ने दिए एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

-आईएनएस


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *