फोन कर पहले प्रेमी बुलाया फिर प्रेमिका ने किया कुछ ऐसा कि आप रह जाएंगे दंग

फोन कर पहले प्रेमी बुलाया फिर प्रेमिका ने किया कुछ ऐसा कि आप रह जाएंगे दंग



फतेहपुर। बकेवर थाना क्षेत्र के ग्राम पधारा निवासी मुकेश कोरी का पांच अक्टूबर की सुबह मंझिलेगांव नहर पुल के पास से हुए अपहरण के मामले में पुलिस ने एक महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। जबकि अपहृत की प्रेमिका तथा उसका पति फरार है। गहन पूछताछ में पकड़े गए अभियुक्तों ने चित्रकूट के बरगढ़ के जंगल में प्रेमिका के दुपट्टे से गला कसकर उसकी हत्या किए जाने की बात स्वीकार की है, लेकिन पुलिस के लाख हाथ पांव मारने के बाद भी लाश बरामद नहीं हो सकी।

एनटीपीसी हादसा: मृतकों की संख्या हुई 30 से ज्यादा, जांच के आदेश

बकेवर थाना क्षेत्र के पधारा गांव निवासी 30 वर्षीय मुकेश कोरी सूरत गुजरात में तीन वर्ष पूर्व रोजी रोजगार करने गया था। वहीं बांदा के निवासी रामरतन वर्मा की पत्नी पूनम से प्रेम प्रसंग हो गया था। यह प्रेम प्रसंग इस कदर परवान चढ़ा कि नाते रिश्तेदारी मे बात फैल गई। सूरत में प्रेमिका के परिजनों ने कई बार हिदायत भी दी कि वह पूनम का पीछा छोड़ दें। कहते हैं कि चोर की चोरी छूट जाती है किन्तु लउकाटारी नहीं छूटती यही हुआ कि दोनों मिलने से तो कतराते रहे, लेकिन फोन के माध्यम से सम्पर्क बना रहा। घटनावाली सुबह चार बजे तडक़े स्कार्पियो (यूपी-90एफ/5251) से प्रेमिका पूनम, उसका पति रामरतन वर्मा, बड़ी बहन गुडिय़ा व उसका पति प्रमोद, भाई अभिषेक तथा पिता रामसरन निवासी बांदा मझिलेगांव नहर पुल के पास आए। वहीं, से पूनम से फोन कराया कि मुकेश तत्काल उक्त स्थान पर मिलो।

भट्ठा मजदूर की नाबालिग बेटी से सिपाही ने किया बलात्कार, गिरफ्तार

मुकेश भी प्रेमिका से मिलने के लिए ब्याकुल हो उठा और अपने दादा के लडक़े को लेकर मोनू को लेकर सरपट घटनास्थल के लिए रवाना हो गया। जैसे ही वह मौके पर पहुंचा तो सभी अभियुक्त उस पर टूट पड़े और मार-मार कर बेदम कर दिया और घटना में प्रयुक्त गाड़ी में डाल लिया। पकड़े गए अभियुक्तों के अनुसार वह पहले से ही हत्या करने का इरादा बना चुके थे। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह मुकेश को लेकर चित्रकूट के घनघोर बरगढ़ के जंगल में ले गए वहीं पर प्रेमिका के दुपट्टे से गर्दन कसकर मार डाला।

गर्भवती युवती ने युवक पर लगाया शादी का झांसा देकर यौन शोषण का आरोप, गिरफ्तार

पुलिस जब अभियुक्तों को लेकर बरगढ़ जंगल पहुंची तो घटनास्थल पर दो रस्सी पड़ी मिली। काफी खोजबीन के बाद भी लाश बरामद नहीं हो सकी। अभियुक्तों की निशानदेही पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त स्कार्पियो को बांदा के एक पेट्रोल पम्प से बरामद कर लिया। घटना के मुख्य अभियुक्त पूनम व उसका पति रामरतन फरार है। पकड़े गए अभियुक्तों को पुलिस ने जेल भेज दिया। घटना के वादी मृतक मुकेश के चाचा ने पुलिस की कार्यवाही से संतोष जाहिर किया है। उसका कहना है कि भतीजे की हत्या करने वाले प्रमुख अभियुक्त प्रेमिका व उसके पति को जब पुलिस गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दिलायेगी तभी उसका आक्रोश ठंडा होगा।

खीरी: चाकू की नोंक पर देवर ने भाभी से किया बलात्कार, गिरफ्तार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *