भाजपा में आधा दर्जन हैं दावेदार, कैसे लगेगी नैया पार

भाजपा में आधा दर्जन हैं दावेदार, कैसे लगेगी नैया पार



मंदीप कुमार वर्मा

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। अधिसूचना जारी होते ही नगर पालिका के अध्यक्ष पद चुनाव को लेकर सरगर्मियां और तेज हो गई हैं। चुनावी समर के सम्भावित योद्धाओं ने पार्टी सिम्बल लेने के लिए जोड़-तोड़ शुरू कर दिया है। वहीं, भाजपा से टिकट पाने के लिए उम्मीदवारों की एक लम्बी लाइन लगी हुई है। हर उम्मीदवार अपनी-अपनी जीत के दावे ठोककर टिकट मांग रहा है। ऐसे में भाजपा के लिए उम्मीदवार की घोषणा करना लोहे के चने चबाने जैसा होगा।

सम्पूर्णानन्द विश्वविद्यालय में शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक पदों की भर्ती पर लगी रोक

विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाली भाजपा में इन दिनों नगर पालिका के अध्यक्ष पद की उम्मीदवारी को लेकर मारा-मारी चल रही है। शुक्रवार को अधिसूचना भी जारी हो चुकी और चुनाव 29 नवम्बर को होने हैं। जिसे लेकर पार्टी के पास एक लम्बी दावेदारों की सूची है। भाजपा में जबरदस्त घमासान शुरू हो गया है। वहीं, नगर पालिका के अध्यक्ष पद की उम्मीदवारी के लिए भी दर्जनों लोग ताल ठोंक रहे हैं। अध्यक्ष पद का चुनाव जीतने के लिए दिग्गजों की निगाहें भाजपा के टिकट पर लगी हुई हैं।

नेपाल: यात्रियों से भरी बस त्रिसुली नदी में गिरी, 28 की मौत

भाजपा से विधायक अरविन्द गिरि के भाई मोंटी गिरि, विजय महेश्वरी, सुरजन लाल वर्मा, विजय शुक्ला रिंकू, शिव गोपाल गुप्ता अब तक अपनी दावेदारी पेश कर रहे थे कि अचानक भाजपा नेत्री डॉ. प्रीती वर्मा समय की मांग बताते हुए मैदान में कूद पड़ी हैं। टिकट वितरण के दौरान पार्टी अंतर कलह से बचने के लिए कदम फूंक-फूंक कर रख रही है। \

आज के दौर में मीडिया का बढ़ा दायरा : मोदी

अगर बात करें 2012 के चुनाव की तो निर्दलीय प्रत्याशी मीनाक्षी अग्रवाल को 17929 मत मिले थे, पीस पार्टी के मो. सलीम अंसारी को 4517, सपा प्रत्याशी लोकेश गुप्ता को 4492, भाजपा प्रत्याशी विजय महेश्वरी को 1943 मत प्राप्त कर चौथे स्थान पर संतोष करना पड़ा था। जबकि निर्दलीय मीनाक्षी शुक्ला को 238 व रामचंद्र वर्मा को 214 मत प्राप्त हुए थे। हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि पार्टी हाईकमान किस पर भरोसा जताते हुयए टिकट देती है। सत्ताधारी भाजपा का प्रत्याशी नगर पालिका के चुनाव में वैतरणीं पार लगा पाता है या नहीं।

लखनऊ के होजरी शॉप में लगी आग, दो मजदूरों की मौत

तीन धड़ों में बंटे हैं कार्यकर्ता

गौरतलब है कि भाजपा 2017 के विधान सभा चुनाव से अब तक पार्टी के कार्यकर्ताओं की गुटबाजी से उबर तक नहीं पाई है। सूत्रों के अनुसार पार्टी तीन धड़ों में बटी है और टिकट मिलने वाले प्रत्याशी को गुटबाजी समाप्त करना कड़ी चुनौती होगी।

बिना खुद के जनाधार के जीत पक्की समझ रहे

भाजपा की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए भावी उम्मीदवार चुनाव में जीत पक्की मान रहे हैं। उन्हें लग रहा है कि भगवा के सहारे बिना खुद के जनाधार के भी वह चुनाव जीत जाएंगे। नगर पालिका के चुनाव में भी मोदी मैजिक चलेगा या नहीं यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

अनिवार्य सेवानिवृत्ति पर हाई कोर्ट की रोक

मीनाक्षी अग्रवाल से कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद

meenakshi agrawal
निवर्तमान पालिकाध्यक्ष मीनाक्षी अग्रवाल

वर्ष 2012 के नगर पालिका चुनाव के समय प्रदेश में समाजवादी पार्टी के सरकार थी और उसने नगर पालिका के चुनाव में लोकेश गुप्ता पर भरोसा जताते हुए टिकट दिया था। लोकेश गुप्ता 4492 मत पाकर तीसरे स्थान पर रहे थे। निवर्तमान पालिकाध्यक्ष मीनाक्षी अग्रवाल भी मैदान हैं उन्हें 2012 के चुनाव में 17929 मत मिले थे। इस बार भाजपा की सरकार है और टिकट मिलने वाले प्रत्याशी का कड़ा मुकाबला मीनाक्षी अग्रवाल से होने की प्रबल सम्भावना है।

दलित महिला से सामूहिक बलात्कार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *