आजम मामले में अंतिम सुनवाई एक नवम्बर को

आजम मामले में अंतिम सुनवाई एक नवम्बर को

कोर्ट ने 20 सितम्बर 2017 को दिए गए अपने आदेश का हवाला देते हुए कहा कि अगली तारीख को वादी के अधिवक्ता को कोई स्थगन नहीं दिया जायेगा


कोर्ट ने 20 सितम्बर 2017 को दिए गए अपने आदेश का हवाला देते हुए कहा कि अगली तारीख को वादी के अधिवक्ता को कोई स्थगन नहीं दिया जायेगा

लखनऊ। समाजवादी पार्टी में कैबिनेट मंत्री रहे आजम खान द्वारा आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर के लिए अभद्र शब्दों का प्रयोग करने के सम्बन्ध में सीजेएम लखनऊ कोर्ट द्वारा निर्गत जमानतीय वारंट के खिलाफ इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में दायर वाद में एक नवम्बर को अंतिम सुनवाई की जाएगी।

फतेहपुर सीकरी में विदेशी जोड़े पर पत्थरबाजी मामले में पुलिस ने दी सफाई

जस्टिस अब्दुल मोईन की बेंच ने कहा कि वादी के वरिष्ठ अधिवक्ता आई बी सिंह की ओर तरफ से सुनवाई स्थगित करने का आग्रह किया गया जिसका प्रतिवादी की अधिवक्ता डॉ. नूतन ठाकुर द्वारा विरोध किया गया, अत: मामला सुनवाई के लिए एक नवम्बर 2017 को तय किया जाता है। कोर्ट ने 20 सितम्बर 2017 को दिए गए अपने आदेश का हवाला देते हुए कहा कि अगली तारीख को वादी के अधिवक्ता को कोई स्थगन नहीं दिया जायेगा और वादी के अधिवक्ता के अनुपस्थित रहने पर भी मामले की सुनवाई की जाएगी।

खेत से लौट रही नाबालिग से गांव के ही युवक पर दुष्कर्म का आरोप

हाई कोर्ट ने अगली सुनवाई तक आजम खान के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही पर रोक के भी आदेश दिए। अमिताभ ने सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर कर कहा था कि श्री खान ने रामपुर में एक प्रेस वार्ता में उन के लिए अत्यन्त अमर्यादित शब्दों का इस्तेमाल किया था, जिसपर सीजेएम कोर्ट ने जमानतीय वारंट जारी किया था। श्री खान इसके विरुद्ध हाई कोर्ट गए थे जहाँ उन्हें अंतरिम राहत मिली थी।

बीवी थी प्रेग्नेंट, पति ने किया सुसाइड, मौत की है ये वजह


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *