बिना रोजी रोटी दिए प्रवचन देना कहां का है धर्म : अखिलेश

बिना रोजी रोटी दिए प्रवचन देना कहां का है धर्म : अखिलेश



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज यहां कहा कि भाजपा सरकार जबसे राज्य में सत्ता में आई है, तभी से वह रागद्वेष की भावना से काम कर रही है। मंहगाई, गरीबी दूर करने की कोई योजना नहीं है। बेकारी और अपराध बढ़े है समाजवादी सरकार ने जनहित की जो योजनाएं लागू की थी उसमें भी रोड़ा अटका दिया है। विकास से भाजपा को चिढ़ है। अखिलेश आज पार्टी मुख्यालय पर आये लोगों से मिलकर उन्हें संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार को आंगनबाड़ी की महिलाओं पर भी बर्बर लाठीचार्ज करने में कोई संकोच नहीं हुआ। यह दुखद एवं घोर निंदनीय है।

धर्म के नाम पर वोट मांगने वालों से सचेत रहने के लिए जागरूक करेगा आयोग

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को गुमराह करना अधर्म है। यह कृत्य घोर अलोकतांत्रिक है। भाजपा अपने वादे तो निभाती नहीं उल्टे झूठ के प्रचार से लोगों को बहकाने और भरमाने का काम करती है। सांप्रदायिकता को उभार कर समाज को तोड़ने और बांटने का काम करती है। समाजवादी पार्टी ने हमेशा लोकतंत्र और सामाजिक सद्भाव पर बल दिया है और विघटनकारी ताकतों का मुकाबला किया है। इसलिए जनता का रूझान समाजवादी पार्टी की ओर है। उन्होंने गांधी जी का यह कथन याद दिलाया कि गरीबों और खाली पेट वालों को पहले रोटी दो फिर भजन की बात करो। बिना रोजी रोटी दिए प्रवचन देना कहां का धर्म है?

प्रेम प्रसंग में हुई थी सचिन की हत्या, प्रेमिका सहित तीन आरोपी गिरफ्तार

पार्टी प्रवक्ता के मुताबिक, इस अवसर पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, पूर्वमंत्री राजेंद्र चौधरी, अभिषेक मिश्रा, कमाल अख्तर, बलवंत सिंह रामूवालिया, विनोद कुमार सिंह उर्फ पण्डित सिंह, ब्रह्माशंकर त्रिपाठी, शिवाकांत ओझा, तथा एसआरएस यादव, सुनील यादव ‘साजन‘, उदयवीर सिंह, राकेश प्रताप सिंह एवं मनोज पारस विधायकगण मौजूद रहे।

महिला चिल्लाती रही, नशेड़ी सरेआम करता रहा बलात्कार, लोग बनाते रहे वीडियो


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *