पहले ट्रेन में युवती से दोस्ती की, फिर शादी का झांसा देकर किया सामूहिक दुष्कर्म

पहले ट्रेन में युवती से दोस्ती की, फिर शादी का झांसा देकर किया सामूहिक दुष्कर्म

आरोप है कि दरभंगा स्टेशन पर उतरने के बाद पांचों युवकों ने लडक़ी को यार्ड में खड़ी एक ट्रेन की खाली बोगी में ले गए और उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया।


आरोप है कि दरभंगा स्टेशन पर उतरने के बाद पांचों युवकों ने लडक़ी को यार्ड में खड़ी एक ट्रेन की खाली बोगी में ले गए और उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया।

दरभंगा। बिहार के दरभंगा रेलवे स्टेशन के यार्ड में खड़ी एक रेलगाड़ी की बोगी में एक लडक़ी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। पुलिस ने सभी पांच आरोपियों को यात्रियों की मदद से छपरा में गिरफ्तार किया। सभी आरोपी नेपाल के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

किशोरी से दुष्कर्म कर हत्या, झाड़ियों में फेंका शव

पुलिस के अनुसार, लडक़ी मूल रूप से सीतामढ़ी की रहने वाली है, लेकिन उसका पिता जयनगर में एक दुकान में काम करता है। उसका परिवार जयनगर में ही रहता है। घर में झगड़ा होने पर लडक़ी जयनगर स्टेशन चली आई और गंगासागर एक्सप्रेस में सवार होकर दरभंगा जा रही थी। उसी दौरान ट्रेन में सफर कर रहे पांच युवकों से उसकी जान-पहचान हो गई। उनमें से एक युवक ने शादी का झांसा देकर उससे दोस्ती कर ली। आरोप है कि दरभंगा स्टेशन पर उतरने के बाद पांचों युवकों ने लडक़ी को यार्ड में खड़ी एक ट्रेन की खाली बोगी में ले गए और उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इसके बाद युवकों ने उसे डरा-धमकाकर साबरमती एक्सप्रेस में बिठा दिया। पीडि़ता का कहना है ये युवक उसे गुजरात के अहमदाबाद ले जा रहे थे।

बेटी ने अपने आइएएस पिता पर लगाया बलात्कार का आरोप, पिता ने बताया मानसिक रोगी

पुलिस ने बताया कि इसी दौरान ट्रेन में बैठे एक यात्री को इन लोगों पर संदेह हुआ और उसने इसकी सूचना छपरा रेल पुलिस को दे दी। छपरा रेल पुलिस ने तत्काल पांचों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। पीडि़ता ने आपबीती सुनाई। इसके बाद छपरा रेल पुलिस ने सभी को दरभंगा रेल थाने के सुपर्द कर दिया।

नौकरी के बहाने मालिक की बहू से बनाए संबंध, फिर करने लगा दुष्कर्म

दरभंगा रेल थाना के प्रभारी एऩ क़े सिंह ने सोमवार को बताया कि लडक़ी के बयान पर दरभंगा रेल थाने में सामूहिक दुष्कर्म की एक प्राथमिकी दर्ज कर पीडि़ता को चिकित्सीय जांच के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार युवकों की पहचान उगेंद्र कुमार यादव, नागेंद्र कुमार यादव, श्याम सुंदर यादव, रामस्वार्थ यादव एवं श्याम कुमार के रूप में की गई है। ये लोग नेपाल के धनुषा जिले के वर्मा मांझी गांव के रहने वाले हैं। ये सभी गुजरात में मजदूरी करते हैं। छुट्टी लेकर गांव आए थे, अब गुजरात लौट रहे थे। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

मासूम छात्र को आत्महत्या को मजबूर करने वाली शिक्षिका गिरफ्तार


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *