मोदी सरकार ने एक भी वादा पूरा नहीं किया: अखिलेश यादव

मोदी सरकार ने एक भी वादा पूरा नहीं किया: अखिलेश



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेशवासियों को भाजपा की साजिशों के बारे में आगाह करते हुए कहा कि केंद्र की सरकार ने अपने कार्यकाल में न तो अपने वादे पूरे किए हैं और नहीं जनता के हित में कोई काम किया है। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा कोई ओपियम (अफीम) लेकर आ सकती है ताकि जनता को गुमराह कर वोट हासिल किए जा सकें। इनसे सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि जातीय अनुपात में आरक्षण होना चाहिए, जिससे समाज में सभी के साथ न्याय हो सके।

पहलवानों ने देश का सम्मान बढ़ाया

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लखनऊ के थाना मोहनलालगंज के खुझौली गांव में आयोजित दंगल के उद्घाटन के बाद लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। श्री यादव ने कहा कि कुश्ती दंगल ग्रामीण संस्कृति से जुड़े हैं। महाभारत-रामायण में भी इनका जिक्र है। भीम और हनुमान मल्ल विद्या में पारंगत थे। गांवों में दंगलों की पुरानी परम्परा है। स्वास्थ्य से भी इसका सम्बंध है। पहलवानी में जोर आजमाइश होती है तो उसके लिए काफी परिश्रम भी करना होता है। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने पहलवानों का भी सम्मान किया था। पहलवानों ने देश का सम्मान बढ़ाया है।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

भाजपा सरकार पेंशन विरोधी

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने बिना धर्म जाति के भेदभाव के जहां फिल्म, फौज, क्रिकेट क्षेत्र के लोगों को सम्मान दिया। वहीं, अलका तोमर और अंशु तोमर दो महिला पहलवानों के अतिरिक्त बच्चन लाल, भगत सिंह, विजयपाल, राजकुमार, गार्गी यादव, राम मिलन, पन्ने लाल, राम आसरे, काली रमन, मेवालाल, नरसिंह तथा जनार्दन सिंह आदि पहलवानों को भी यश भारती सम्मान दिया था और 50 हजार रुपए पेंशन दी थी। भाजपा सरकार ने पेंशन बंद कर दी है। भाजपा सरकार पेंशन विरोधी है।

यह भी पढ़ें : अखिलेश सरकार में छपे राशनकार्ड फर्जी!

भाजपा अपने काम का परिचय तो दे

अखिलेश ने प्रदेश में भाजपा सरकार के कामकाज पर तीखी टिप्पणियां कीं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार विकास विरोधी सरकार है। समाजवादी सरकार ने कैंसर अस्पताल बनवाया, लैपटॉप बांटे, कन्या विद्याधन दिया, अमूल प्लांट लगवाया। भाजपा अपने काम का परिचय तो दे। छह माह से यह सरकार सिर्फ समाजवादी सरकार के विकास की जांच ही कर रही है। बेहतर हो वह अपनी भी जांच करे। अपने काम का परिचय तो दे। जब डबल इंजन की सरकार है तो कोई काम कयों नहीं करती है?

यह भी पढ़ें :  वनावटी समाजवादियों से सावधान रहें, नेताजी हमारे साथ: अखिलेश

 दिल्ली की सरकार ने क्या किया

उन्होंने कहा कि भाजपा राज में गोरखपुर में हजारों बच्चों की जापानी बुखार से मौतें हुई है। एक मंत्री ने शर्मनाक बयान दिया कि अगस्त में ऐसी मौतें होती रही हैं। समाजवादी सरकार ने गरीबों को लोहिया आवास दिए थे। महिलाओं की सुरक्षा के लिए 1090 पावर लाइन थी। 55 लाख को समाजवादी पेंशन दी थी। दिल्ली की सरकार ने क्या किया? सपा सरकार ने यूपी 100 डायल पुलिस की व्यवस्था की थी। इससे कानून व्यवस्था में सुधार हुआ था। अब भाजपा मुख्यमंत्री उसमें भ्रष्टाचार की बात करते है तो यह किसकी जिम्मेदारी है? सरकार तो उन्हीं की है।

नोटबंदी और जीएसटी से देश की अर्थव्यवस्था तबाह हुई

अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से देश की अर्थव्यवस्था तबाह हुई है। नोट काला सफेद नहीं होता है। लेन-देन काला सफेद होता है। सरकार बताए कि कितना कालाधन है? देश के बड़े 100 कर्जदारों में लगभग 50 उत्तर प्रदेश के है। इन कर्जदारों की सूची भाजपा जाहिर करे। नोटबंदी का पैसा इनके पास ही गया है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी तरक्की ओर खुशहाली की तरफदार है। भाजपा से धोखा न मिले इसके लिए सभी को समझदार और सावधान रहना होगा। भाजपा ने भोली भाली जनता को आखिर धोखा क्यों दिया?

यह भी पढ़ें : नोटबंदी से अमीरों का कुछ नहीं बिगड़ा, गरीबों पर आई शामत: अखिलेश

प्रधानमंत्री ने एक भी चुनावी वादा पूरा नहीं किया

अखिलेश ने कहा कि किसानों और गांवों के लिए उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा काम समाजवादी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा बिना बड़े काम किए राज्य का विकास नहीं हो सकता है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसी सडक़ समाजवादियों ने ही बनाई। किसानों को चार गुना मुआवजा दिया गया था। किसानों को अपनी फसल के विक्रय में सुविधा मिले इसके लिए मंडियों की स्थापना की। बीमारों और प्रसूताओं के लिए 108 और 102 नम्बर एम्बूलेंस सेवा शुरू की थी। अखिलेश ने कहा कि भाजपा अच्छे दिनों का वादा कर चुनाव जीती थी पर ये अच्छे दिन कहां आए है? भाजपा तो किसानों के कर्जमाफी का झूठा प्रचार कर रही है। तीन साल से ऊपर हो गए प्रधानमंत्री ने एक भी चुनावी वादा पूरा नहीं किया। गंगा नदी कहां साफ हुई? काली नदी कब साफ होगी? समाजवादी सरकार ने नदी सफाई का काफी काम किया था। सफाई के बदले भाजपा ने नदियों में और गंदगी फैला दी है। उन्होंने कहा बबूल के पेड़ से आम की उम्मीद नहीं की जा सकती है। वैसे भी दिल्ली में प्रधानमंत्री का तीर राम लीला मैदान से कल अपने लक्ष्य पर नहीं पहुंच सका। यह संकेत काफी है।

खुझौली में दंगल का आयोजन चंद्रशेखर यादव, अमरीश पुश्कर विधायक तथा सुशीला सरोज, पूर्व सांसद द्वारा किया गया था। इसमें सुनील सिंह ‘साजन‘ तथा राजेश यादव एमएलसी, अशोक यादव, जिलाध्यक्ष विजयलक्ष्मी ब्लॉक प्रमुख, राम स्वरूप यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष, विजय यादव, राम सागर यादव, राशिद अली, अमरपाल सिंह तथा लवकुश यादव की उपस्थिति उल्लेखनीय रही। कार्यक्रम का संचालन मेहताब ने संचालन किया।

यह भी पढ़ें : बुरे समय में कौन साथ है, कौन नहीं, इसका भी परीक्षा : अखिलेश


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *