योगाभ्यास हार्ट अटैक से बचने में सहायक

योगाभ्यास हार्ट अटैक से बचने में सहायक



नई दिल्ली। बदलती जीवनशैली और खान-पान की गलत आदतों के कारण हार्ट अटैक जैसी समस्याएं आम हो गई हैं। आज के समय में लोगों की अनियमित दिनचर्या की वजह से यह समस्या युवाओं में भी तेजी से बढऩे लगी है। योग औषधि संस्थान का कहना है कि नियमित योगाभ्यास करने से हार्ट अटैक जैसी गंभीर समस्याओं से बचा जा सकता है। आज के समय में लोगों के पास न खाने का वक्त है न समय से सोने का। इस आराम वाली जीवनशैली में न हम व्यायाम करते हैं न ही टहलते हैं। पहले ऐसी समस्याएं केवल बुढ़ापे में देखने को मिलती थी, पर अब युवा भी हार्ट अटैक जैसी समस्याओं का शिकार हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें: श्रीराम-केवट संवाद, सीता हरण तथा जटायु मरण का हुआ मंचन

शरीर में प्राण की गति को बढ़ाता है योगासन

विश्व हृदय दिवस पर योगऔषधि संस्थान के निदेशक दीपक डडवाल ने बताया, यदि हम योगाभ्यास को जीवन का अंग बना लें, तो हार्ट अटैक से बचा जा सकता है। योगासन शरीर में प्राण की गति को बढ़ाता है। सूर्यनमस्कार को 12 बार करें, यह एक कार्डियोवैस्कुलर अभ्यास है, इसके अलावा कुछ और आसन हृदय के लिए लाभदायक हैं।

यह भी पढ़ें: शतरंज: आइल ऑफ मैन इंटरनेशनल टूर्नामेंट के चौथे दौर में हारीं हरिका

तनाव से रहें दूर

उन्होंने कहा कि भुजंग, गोमुख, नाव, सेतुबंध, वृक्ष, त्रिकोण, उष्ट्र इनके नियमित अभ्यास से हार्ट अटैक से बचा जा सकता है। दीपक ने बताया, हार्ट एक ऐसा अंग है जो मनुष्य की जिंदगी में पैदा होने से मरने तक काम करता रहता है। दिल को स्वस्थ रखने के लिए नियमित व्यायाम, अच्छा खाना और धूम्रपान से परहेज ये तीन बातें बेहद जरूरी हैं। इन सबके बावजूद हम कई और बातें भूल जाते हैं जैसे कि तनाव न लें, दिमाग शांत रखें।

यह भी पढ़ें: मोहल्ले को स्वच्छ रखना हम सबकी जिम्मेदारी: रिंकू शुक्ला


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *