मुख्यमंत्री योगी व समेत पांचों एमएलसी 18 को लेंगे शपथ

मुख्यमंत्री योगी व समेत पांचों एमएलसी 18 को लेंगे शपथ



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा समेत भारतीय जनता पार्टी के पांचों नव निर्वाचित विधान परिषद सदस्य आगामी 18 सितम्बर को परिषद् की सदस्यता की शपथ लेंगे। उन्हें विधान परिषद के सभापति रमेश यादव शपथ दिलाएंगे। माना जा रहा है कि विधान परिषद की सदस्यता ग्रहण करने के बाद मुख्यमंत्री योगी और उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य सांसद पद से इस्तीफा देंगे।

यह भी पढ़ें : फेल होने पर स्नातक की छात्रा ने लगाई फांसी

सभापति रमेश दिलाएंगे शपथ

उ.प्र. विधान परिषद् के प्रमुख सचिव डा. मोहन यादव ने बताया कि यूपी विधान परिषद् के लिये ’उत्तर प्रदेश विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र’ से विधिवत नव-निर्वाचित सदस्य मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा, परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्रदेव सिंह और अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मोहसिन रजा को परिषद् की सदस्यता की शपथ 18 सितम्बर (सोमवार) को सुबह 11 विधान भवन के तिलक हॉल में परिषद के सभापति रमेश यादव दिलाएंगे।

यह भी पढ़ें : मन्दिर निर्माण को लेकर दो समुदाय आमने-सामने

सदस्यता ग्रहण करने के बाद देंगे इस्तीफा

माना जा रहा है कि परिषद की सदस्यता ग्रहण करने के बाद मुख्यमंत्री योगी और उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य सांसद पद से इस्तीफा देंगे। योगी अभी गोरखपुर की लोकसभा सीट से और श्री मौर्य फूलपुर की लोकसभा सीट से सांसद हैं। दरअसल 18 सितम्बर को शपथ लेने के बाद विधान परिषद उपचुनाव प्रक्रिया खत्म हो जाएगी। शपथ लेने के बाद भी नियमानुसार 14 दिन का समय इस्तीफा देने के लिए होता है, या तो मुख्यमंत्री योगी और उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य स्वयं इस्तीफा दे दें। अन्यथा 14 दिन बाद इनकी संसद सदस्यता स्वत: ही समाप्त हो जाएगी। इस तरह इनकी संसद सदस्यता दो अक्तूबर तक ही रहेगी। सूत्र बताते हैं कि दोनों ही लोग सदस्यता खत्म होने के आखिरी दिनों में ही इस्तीफा देंगे। ऐसे में एक या फिर दो अक्तूबर को इस्तीफा दिया जा सकता है। गौरतलब है कि भाजपा के पांचों मंत्री निर्विरोध विधान परिषद सदस्य निर्वाचित हुए हैं।

यह भी पढ़ें : बहन की हत्या कर भाई ने फैलाई चोटी कटवा की अफवाह

ये सीटें हुई थीं रिक्त

एमएलसी रहे यशवंत सिंह के त्यागपत्र के बाद रिक्त हुई सीट पर उच्च सदन पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कार्यकाल 6 जुलाई 2022 तक रहेगा। वहीं सपा एमएलसी बुक्कल नवाब के इस्तीफे के बाद रिक्त सीट पर विधान परिषद पहुंचे उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का कार्यकाल कार्यकाल छह जुलाई 2022 तक रहेगा। इसी प्रकार डॉ. अशोक बाजपेयी की सीट से विधान परिषद जाने वाले उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा का और डॉ. सरोजिनी अग्रवाल की रिक्त सीट पर उच्च सदन पहुंचे परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव का कार्यकाल 30 जनवरी 2022 तक हैं। वहीं, बसपा एमएलसी रहे ठाकुर जयवीर सिंह के इस्तीफा देने से रिक्त हुई सीट पर विधान परिषद पहुंचे अल्पसंख्यक राज्य मंत्री मोहसिन रजा का कार्यकाल 5 मई 2018 तक रहेगा।

यह भी पढ़ें : नगर निगम ठेकेदार की गोली मारकर हत्या


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *