बीआरडी मामला: सहायक लेखाकार संजय त्रिपाठी गिरफ्तार

बीआरडी मामला: सहायक लेखाकार संजय त्रिपाठी गिरफ्तार



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

गोरखपुर। गोरखपुर के बाबा राघवदास  (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज में दर्जनों बच्चों की मौत मामले में एक अन्य आरोपी संजय त्रिपाठी मंगलवार को गोरखपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज है, जिसमें से अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया जा चुक है। वहीं, पुलिस और एसटीएफ अन्य तीन आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

यह भी पढ़ें : लिव इन रिलेशनशिप में रह रही युवती ने की खुदकुशी, प्रेमी हिरासत में

अब तक छह लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी

बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में सहायक लेखाकार संजय त्रिपाठी को पुलिस ने कैंट थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया। बताते हैं कि आरोपी सहायक लेखाकार संजय त्रिपाठी डॉक्टर सतीश की तरह कोर्ट में समर्पण करने की कोशिश में था, लेकिन पुलिस ने उसकी कोशिश को असफल करते हुए पहले ही कैंट थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। 30 बच्चों की मौत के मामले में अब तक छह लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

यह भी पढ़ें : 50 हजार मकानों का कब्जा तीन माह में दें बिल्डर्स: मुख्यमंत्री योगी

नौ लोगों के खिलाफ दर्ज किया गया था मुकदमा

बता दें कि बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में दस व 11 अगस्त की रात 30 से अधिक बच्चों की हुई मौत के मामले में गोरखपुर के जिलाधिकारी को जांच सौंपी गई थी। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य से लेकर कई अन्य जिम्मेदार डॉक्टरों को लापरवाही का तो दोषी माना गया था।

यह भी पढ़ें : खीरी: ट्रकों की भिड़ंत में पिता और उसके दो बेटों की मौत

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव की अध्यक्षता में जांच समिति गठित कर एक हफ्ते में रिपोर्ट मांगी थी। मामले में कई स्तरों पर अधिकारियों की उदासीनता और लापरवाही की बातें सामने आई थीं। ऑक्सीजन की आपूर्ति करने वाली फर्म ने कॉलेज आपूर्ति रोके जाने की बात भी कही थी। इसके बाद महानिदेशक चिकित्सा-शिक्षा डॉ. केके गुप्ता की तहरीर पर 23 अगस्त को पुलिस ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। जिसमें तत्कालीन प्राचार्य डॉ. राजीव मिश्र, उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा शुक्ला, वार्ड 100 के एनएचएम के नोडल अधिकारी डॉ. कफील खान, लिपिक सुधीर पांडेय, एनेस्थिसिया के विभागाध्यक्ष डॉ. सतीश कुमार, लेखाकार संजय त्रिपाठी, गजानन जायसवाल, उदय शर्मा और मनीष भंडारी शामिल है। इनमें से छह लोग अब तक पकड़े जा चुके हैं। एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने बताया कि अब गजानन जायसवाल, उदय शर्मा और मनीष भंडारी की तलाश चल रही है।

यह भी पढ़ें : जापानी प्रधानमंत्री आबे भारत के दो दिवसीय दौरे पर


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *