50 हजार मकानों का कब्जा तीन माह में दें बिल्डर्स: मुख्यमंत्री योगी

50 हजार मकानों का कब्जा तीन माह में दें बिल्डर्स: मुख्यमंत्री योगी



लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिल्डरों को तीन माह में 50 हजार फ्लैट पूरे कराकर आवंटियों को देने को कहा है। उन्होंने यह भी कहा कि जो बिल्डर्स आवंटन समय पर नहीं करेंगे, सरकार उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। साथ ही सरकार बिल्डर्स का ऑडिट भी कराएगी। बता दें कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा में फ्लैट के लिए बुकिंग करा चुके लोगों को बिल्डर कई सालों से आवंटन नहीं कर रहे हैं। इसकी शिकायत परेशान फ्लैट आवंटियों ने मुख्यमंत्री योगी से की थी।

यह भी पढ़ें : सरकार क्या लोगों के बच्चे भी पाले: मुख्यमंत्री योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिल्डर्स के साथ बैठक की

-बैठक में मुख्यमंत्री ने बिल्डर्स को निर्देश दिए हैं कि पचास हजार मकानों का कब्जा अगले तीन महीने में दिया जाए।

-बाकी बचे एक लाख लोगों को भी उनका घर जल्द दिलाया जाएगा।

-उन्होंने कहा कि यह काम नोएडा व ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के अधिकारियों को बिल्डर्स से बातचीत कराकर करना है।

-प्राधिकरण अपनी-अपनी एजेंसी बनाएंगी। एजेंसी अपनी रिपोर्ट दो माह में देगी।

-एजेंसी फ्लैट आवंटन में आने वाली तकनीकी व कानूनी दिक्कतों को भी दूर कराएगी।

-जो बिल्डर्स आवंटन समय पर नहीं करेंगे, सरकार उन पर कड़ी कार्रवाई करेगी। इसके अलावा सरकार बिल्डर्स का ऑडिट भी कराएगी।

यह भी पढ़ें : मुख्यमंत्री योगी बोले, किसानों की कर्जमाफी उपकार नहीं, अधिकार

सहयोग न करने वाले बिल्डर्स के खिलाफ लिया जाएगा एक्शन: खन्ना

-नोएडा मामलों के लिए बनी समिति के अध्यक्ष सुरेश खन्ना ने कहा कि ग्रेटर नोएडा, नोएडा अथॉरिटी के सभी अधिकारियों और बिल्डर्स को क्रेताओं की समस्याओं के समाधान के लिए बुलाया गया, जिसमें कई बातों पर सहमति बनीं।

-नोएडा में लोगों ने सालों की अपनी कमाई घर बनाने के लिए बिल्डरों को सौंपी है। सरकार उनके साथ अन्याय नहीं होने देगी।

-एक एक्सपर्ट कम्पनी के जरिये बायर्स और बिल्डर्स के बीच आ रही परेशानियों की समीक्षा की जाएगी। इसके अलावा हर महीने की रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपी जाएगी।

-जो बिल्डर्स इसमें सहयोग नहीं करेंगे उनके उनके खिलाफ आर्थिक और कानूनी एक्शन लिया जाएगा। फिलहाल इस मामले में 13 एफआईआर हो चुकी है।

-बैठक में आम्रपाली, सुपरटेक, क्रेडाई के प्रतिनिधि, मंत्री सुरेश खन्ना, सुरेश राणा व  सतीश महाना मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : एक्शन में मुख्यमंत्री योगी : 11 अफसरों को किया मौके पर सस्पेंड


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *