...तो मास्साहब ने छात्रों को पकड़ा दिया फावड़ा

…तो मास्साहब ने छात्रों को पकड़ा दिया फावड़ा



लखीमपुर खीरी। केंद्र व प्रदेश सरकार गुणवत्तापरक शिक्षा को लेकर तमाम योजनाएं चला रही है। वहीं, प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षक सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला लखीमपुर खीरी के बिजुआ ब्लॉक में देखने को मिला। जहां एक शिक्षक ने स्कूल में छात्रों को पढ़ाने की बजाय फावड़ा थमा दिया।

लखीमपुर खीरी के ब्लॉक बिजुआ में प्राथमिक विद्यालय रायपुर के स्कूल में मास्टर साहब बच्चों से काम करवा रहे हैं, जो बच्चे पढऩे के लिए स्कूल जाते हैं आखिर उन्हीं बच्चों से मास्टर साहब हाथ में फावड़ा थमा कर काम लेने लगते हैं। वाकई एक सोचनीय विषय है कि अभी कुछ दिन पहले ये बात सुर्खियों में आई थी कि सरकारी कर्मचारी वो चाहे आईएएस हो या आईपीएस हो सभी अपने बच्चों को सरकारी स्कूल में पढ़ाएंगे मगर कुछ दिन तो इस पर बड़ी चर्चा चली, मगर उसके बाद ये नियम भी हवा हवाई हो गया।

स्कूल से एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जो खुद ही हकीकत बयां करती दिख रही है। सवाल इस बात का है कि ये क्या सुधारेंगे शिक्षा के स्तर को जो स्कूल में पढऩे वाले बच्चों को काम करने वाला मजदूर समझ रहे हैं। इस तस्वीर को देख शिक्षा विभाग में गरीब बच्चों की बेबसी और लाचारी सामने आयी जो शायद अपनी विवशता पे आंसू जरूर बहाते होंगे।


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *