पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव के करीबी कद्दावर नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर

पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव के करीबी कद्दावर नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर



Lucknow. समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के करीबी नेता एवं पूर्व सांसद भालचंद्र यादव का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि वह कैंसर से पीड़ित थे, उनका इलाज गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में चल रहा था। भालचंद्र यादव राजनीति में माहिर खिलाड़ी माने जाते थे।

संतकबीरनगर के भगता गांव निवासी भालचंद्र यादव पहलवानी के शौकीन थे। उन्होंने छात्र जीवन से राजनीति ज्वाइन कर ली थी। छात्रसंघ में उनका दबदबा रहता था। इसके बाद वर्ष 1999 में वह पहली बार समाजवादी पार्टी से सांसद बने। इसके बाद 2004 में लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत हुई। 2009 और 2014 का भी लोकसभा चुनाव लड़ा, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

भालचंद्र यादव समाजवादी पार्टी के तत्कालीन प्रमुख मुलायम सिंह यादव का बेहद करीबी माना जाता था। भालचंद्र के बसपा के राम गोविंद चैधरी को करीब तीन हजार वोटों से हराया था। इसके बाद 2004 में भालचंद्र यादव ने समाजवादी पार्टी छोड़ दी और बसपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा, उन्होंने जीत दर्ज की।

भालचंद्र यादव का बहुत जल्द ही बसपा से मोहभंग हो गया है, 2008 में उन्होंने समाजवादी पार्टी में वापसी कर ली। इसे लेकर उनके खिलाफ दल-बदल कानून के तकत कार्रवाई हुई, उनकी सदस्यता रद्द कर दी गई, लेकिन 2009 में वह लोकसभा चुनाव हार गए। इसके बाद एक बार फिर उन्होंने बसपा का दामन थाम लिया। 2012 में बहुजन समाज पार्टी ने भालचंद्र यादव को निष्काषित कर दिया।

इसके बाद उन्होंने फिर सपा का दामन थाम लिया। 2014 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर उन्होंने चुनाव लड़ाख् लेकिन जीत नहीं मिल सकी। इसके बाद 2019 में उन्होंने कांग्रेस पार्टी से लोकसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन एक बार फिर उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

यह भी पढ़ें…

सपा में वापसी को लेकर शिवपाल का चौंकाने वाला फैसला, गरमाई यूपी की सियासत

जलवायु संरक्षण पर पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र को किया सम्बोधित, बोले- अब बात नहीं काम करने का समय

पाक पत्रकार को डोनाल्ड ट्रम्प ने लगाई फटकार, इमरान से पूछा- आप कहां से लाते हैं ऐसे पत्रकार

टी20 इंटरनेशनल: कप्तान कोहली की शानदार पारी, भारत ने दक्षिण अफ्रीका को सात विकेट से हराया


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *