युवती से गैंगरेप का अश्लील वीडियो वायरल, दो गिरफ्तार

युवती से गैंगरेप का अश्लील वीडियो वायरल, दो गिरफ्तार



गोला गोकर्णनाथ खीरी। शहर निवासी एक युवती के साथ गैंगरेप कर उसका अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर देने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर 376 डी व 67 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है। वहीं, चार नामजद आरोपियों में से दो युवकों को गिरफ्तार कर चालान भेज दिया है।

 

शहर निवासी एक युवती ने दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा है कि उसके भाई का दोस्त रूशिल गुप्ता जो उसी के मोहल्ले का निवासी है, उसके घर अक्सर आता जाता था। जिससे उससे जान पहचांन हो गई और नवम्बर, 2018 में रूशिल गुप्ता ने उसे सुनील के किराये के मकान पर बुलाया, जहां उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर बेहोशी की हालत में दुष्कर्म किया। जबकि वहां मौजूद रूशिल गुप्ता के दोस्त अनुज गुप्ता, अभिषेक गुप्ता व सुनील ने मिलकर खिड़की से वीडियो बना ली। लोकलाज के डर से युवती ने इस घटना को परिजनों को नहीं बताया।

इसके बाद आरोपी लगातार वीडियो वायरल करने की धमकी देकर शारीरिक सम्बन्ध बनाने का दबाव बनाने का प्रयास करते रहे। पीड़िता के विरोध करने पर युवकों ने मंगलवार को उक्त अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। बताते हैं कि वायरल अश्लील वीडियो रात लगभग में युवती के परिजनों के पास भी पहुंच गया, जिससे उनके होश उड़ गए और वह युवती को लेकर आनन फानन में कोतवाली पहुंचे और पूरा मामला पुलिस को बताया।

पुलिस ने सतर्कता बरतते हुए दो युवकों को हिरासत में ले लिया। बुधवार को पुलिस ने चार आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर युवती को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है। अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है।

सीओ अभिषेक प्रताप अजेय ने बताया कि अश्लील वीडियो वायरल मामले में युवको के खिलाफ 376 डी व 67 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दो युवकों का चालान कर दिया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

यह भी पढ़ें…

पीएम मोदी के अयोध्या को लेकर रामजन्म भूमि के पुजारी कही ये बड़ी बात

बसपा सुप्रीमो मायावती कांग्रेस से नहीं करेंगी गठबंधन, ये है वजह

भाजपा छोड़कर आए इस दलित नेता को कांग्रेस ने दी बड़ी जिम्मेदारी

इस नेता ने की भविष्यवाणी, यूपी में 17 सीटों पर सिमट जाएगी बीजेपी

शिवपाल यादव ने कांग्रेस को दिया समर्थन, निकाले जा रहे सियासी मायने


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *