भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थाम सकती हैं जयपुर राजघराने की राजकुमारी

भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थाम सकती हैं जयपुर राजघराने की राजकुमारी



New Delhi. जयपुर राजघराने की कांग्रेस के साथ बढ़ती नजदीकियों से भाजपा की पूर्व विधायक दीया कुमारी के कांग्रेस का दामन थामने के कयास लगाए जा रहे हैं। राजनीतिक हलकों में चर्चा है कि दीया कुमारी जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ सकती हैं।

सवाईमाधोपुर से विधायक रहीं जयपुर राजघराने की दीया कुमारी का भाजपा ने विधानसभा चुनाव में टिकट काट दिया था। होटल राजमहल पैलेस को लेकर जयपुर राजघराने और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बीच अनबन चल रही थी।

सूत्रों के अनुसार भाजपा हाईकमान की ओर से भी उपेक्षा के बाद जयपुर राजघराने ने फिर से कांग्रेस के साथ अपनी नजदीकियां बढ़ाई हैं। जयपुर के पूर्व महाराजा स्व. भवानी सिंह पूर्व में कांग्रेस के टिकट पर जयपुर से लोकसभा का चुनाव लड़े थे।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता के घर पहुंचीं पद्मिनी देवी

सूत्रों ने बताया कि जयपुर राजघराने की पद्मिनी देवी के प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के घर भोज के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के राजघराने के होटल राजमहल पैलेस में रुकने को राजघराने की कांग्रेस के साथ बढ़ती नजदीकी के रूप में देखा जा रहा है। दीया कुमारी के जन्म दिन समारोह में भी बड़ी संख्या में कांग्रेस के नेता पहुंचे थे।

जयपुर ग्रामीण से मिल सकता है टिकट

सूत्रों के अनुसार दीया कुमारी विधानसभा चुनाव में जयपुर की हवामहल सीट से चुनाव लड़ना चाहती थीं, लेकिन भाजपा ने उनका टिकट काट दिया। दीया कुमारी अब लोकसभा में चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी में हैं।

भाजपा सूत्रों का कहना है कि जयपुर ग्रामीण से राज्यवर्धन सिंह राठौड़ की उम्मीदवारी के बाद पार्टी जयपुर शहर सीट पर किसी राजपूत नेता को उतारने के पक्ष में नहीं है। ऐसे में कयास लगाए जाने लगे हैं कि वे लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का दामन थाम सकती हैं।

कांग्रेस की ओर से दीया कुमारी को जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट पर केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के खिलाफ मैदान में उतारा जा सकता है।

यह भी पढ़ें …

डिंपल यादव के खिलाफ मोदी ने उतारा ये नेता, अब मुश्किल हुई कन्नौज से डिंपल की जीत

कांग्रेस से नवजोत सिंह सिद्धू की नाराजगी हुई दूर, मिली बड़ी जिम्मेदारी

बसपा ने जारी की उम्मीदवारों की तीसरी सूची, पूर्व आईपीएस सहित इन लोगों को मैदान में उतारा

सीएम कमलनाथ के करीबी के यहां आयकर विभाग की सबसे बड़ी कार्रवाई, सीआरपीएफ और पुलिस में नोकझोंक


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *