पीएम मोदी ने देररात तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ की बैठक, लिया ये बड़ा निर्णय

पीएम मोदी ने देररात तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ की बैठक, लिया ये बड़ा निर्णय



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

Lucknow. पुलवामा में हुए आतंकी हमले के ​बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान को घुसकर मारा था। इस हमले में आतंकी सगठन जैस-ए-मोहम्मद के कई ठिकानों और ट्रेनिंग को कैम्पों को ध्वस्त कर दिया गया है। भारत की इस कार्रवाई में कई आतंकियों के मारे जाने की खबर है। भारत की इस कार्रवाई से मिलमिलाए पाकिस्तान ने एलओसी पर सीजफायर उल्लंघन किया। इसके साथ ही दिनभर घटनाक्रम तेजी से बदलते रहे। गहमागहमी के बीच देर शाम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों सेना प्रमुखों के साथ अहम बैठक की।

प्रधानमंत्री आवास 7 लोक कल्याण मार्ग पर यह बड़ी बैठक करीब डेढ़ घंटे तक चली। सूत्रों ने बताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान की हरकत को देखते हुए साफ कह दिया है कि वह पड़ोसी मुल्क के दबाव में नहीं झुकेंगे। उन्होंने तीनों सेनाओं को अपने हिसाब से पूरी तैयारी के साथ जवाब देने को कहा है। इसके लिए सेना को पूरी तरह से छूट दे दी गई है कि वे समय, जगह और तरीका सुनिश्चित कर पलटवार करें।

बता दें कि एक दिन पहले भारतीय एयरफोर्स ने पाकिस्तान और पीओके में आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया था। भारत ने इसे आम लोगों या पाक सेना के खिलाफ नहीं बल्कि आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई बताया था, जो भारत में पुलवामा जैसे बड़े हमले की साजिश रच रहे थे। हालांकि एक दिन बाद ही बुधवार सुबह पाकिस्तान भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले की नीयत से अपने लड़ाकू विमान रवाना कर दिए।

बताया जा रहा है कि सुबह 9.45 पर भारतीय रेडार पर पाकिस्तान के रावलपिंडी, सरगोधा और इस्लामाबाद एयर बेसों से लड़ाकू विमानों की हरकत देखी गई। 9.50 पर पाकिस्तान एयरफोर्स के 10 जेट फॉर्मेशन के भारत की सीमा की तरफ बढ़ने के संकेत मिले। पाक जेट्स पाकिस्तान के उत्तरी क्षेत्रों की तरफ बढ़ रहे थे, जिससे साफ हो गया कि वे जम्मू एवं कश्मीर में भारतीय ठिकानों पर हमला करना चाहते थे।

भारतीय एयरफोर्स का एयर डिफेंस नेटवर्क फौरन ऐक्टिव हो गया और 2 मिग 21 और 3 सुखोई-30 को अवंतिपोरा और श्रीनगर एयरफील्ड्स से उड़ान भरी। सरकारी सूत्रों ने बताया है कि पाकिस्तानी जेट्स भारतीय सेना के ब्रिगेड मुख्यालय को निशाना बनाना चाहते थे। जवाबी कार्रवाई में भारतीय जेट ने पाकिस्तान के एक F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया। हालांकि इस ऑपरेशन में भारत का एक मिग-21 भी गिर गया और पायलट लापता हो गए। बाद में पाकिस्तान ने खुद ही तस्वीरें और विडियो जारी कर दावा किया कि भारतीय पायलट उसकी हिरासत में हैं।

इधर, भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को तलब कर कड़ा विरोध दर्ज कराया। भारत ने स्पष्ट कहा है कि पाक की हिरासत में मौजूद भारतीय पायलट को नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए। वहीं, पाक पीएम इमरान खान ने शांति की बात कही है। उन्होंने कहा कि एक बार युद्ध शुरू हुआ तो उसे न इमरान और न ही पीएम मोदी रोक पाएंगे।

यह भी पढ़ें …

भारतीय वायुसेना की कार्रवाई से खुशी का माहौल

महिला संगठन ने शहीद परिवारों के लिए जुटाए 30 हजार रुपए

चुनाव से पहले कांग्रेस को मिला इन तीन दलों का साथ, भाजपा और सपा-बसपा में हड़कंप


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *