यूपी : अखिलेश यादव के लिए बड़ी खुशखबरी, सीएम योगी को लगा झटका

यूपी : अखिलेश यादव के लिए बड़ी खुशखबरी, सीएम योगी को लगा झटका



Lucknow. आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भारतीय जनता पार्टी का सिरदर्द कम होने का नाम नहीं ले रहा है, जबकि पूर्व सीएम ​अखिलेश यादव के लिए खुशखबरी है। मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सत्ता गंवाने के बाद अब यूपी में भाजपा को बड़ा झटका लगा सकता है। दरअसल, एक ताजा सर्वे में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एंटी इनकंबेसी का नुकसान उठाना पड़ सकता है। सीएम योगी एमपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और वसुंधरा राजे से भी फिसड्डी साबित हो रहे हैं।

एक्सिस माय इंडिया और टीवी टुडे ने हाल की में एक सर्वे किया है। सर्वे में जो आंकड़े सामने आए हैं, उन आंकड़ों से भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में बड़ा नुकसान हो सकता है। सर्वे के मुताबिक, सूबे में लोकप्रियता के मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ काफी पिछड़ गए है। वह एमपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे से भी पीछे हैं। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी अध्यक्ष एवं पूर्व सीएम ​अखिलेश यादव की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है। हालांकि सीएम योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता बीते तीन महीनों में तेजी से गिरी है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में दो साल बाद योगी की लोकप्रियता मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों के रूप में तीसरे कार्यकाल के बाद भी शिवराज सिंह चौहान और रमन सिंह की तुलना में 6 फीसदी कम है। लोकसभा चुनावों को देखते हुए भाजपा चुनावी मोड में आ चुकी है, ऐसे में उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के खिलाफ असंतोष सत्ताधारी पार्टी के लिए नया सिरदर्द साबित हो सकता है। सितंबर में इंडिया टुडे के लिए एक्सिस द्वारा किए गए सर्वे में योगी आदित्यनाथ को 43 फीसदी जनता ने लोकप्रियत नेता बताया था,, लेकिन एक्सिस का ताजा सर्वे बताता है कि बीते तीन महीनों में योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता में 5 फीसदी की कमी आई है। दिसंबर के तीसरे सप्ताह में सिर्फ 38 फीसदी लोगों ने कहा कि अगली बार भी मुख्यमंत्री पद के लिए योगी आदित्यनाथ ही उनकी पसंद होंगे।

यह भी पढ़ें ... उपेन्द्र कुशावहा ने एनडीए का छोड़ा साथ, तेजस्वी ने कही ये बड़ी बात

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की लोकप्रियता एक बार फिर तेजी के साथ बढ़ रही है। बीते तीन महीनों में उनकी लोकप्रियता में 8 फीसदी का इजाफा हुआ है। सितंबर महीने में किए गए सर्वे में अखिलेश यादव को 29 फीसदी लोगों ने लोकप्रिय नेता बताया था। जबकि तीन महीने बाद दिसंबर में हुए सर्वे में 37 फीसदी लोगों ने अखिलेश को लोकप्रिय नेता बताया। यानी कि अब योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव की लोकप्रियता में महज एक फीसदी का फासला रह गया है। वहीं बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती की लोकप्रियता गिरी है। सितंबर महीने में मायावती को 18 फीसदी लोगों ने पसंदीदा नेता बताया था, जबकि दिसंबर महीने में उन्हें 15 फीसदी लोगों ने लोकप्रिय नेता बताया।

यह भी पढ़ें … बसपा सुप्रीमो मायावती ने सपा को भेजा आमंत्रण, कर सकती है बड़ा ऐलान


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *