विधानसभा चुनावों के बाद इस वजह से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने लोकसभा से दिया इस्तीफा, अटकलें तेज

विधानसभा चुनावों के बाद इस वजह से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने लोकसभा से दिया इस्तीफा, अटकलें तेज



Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

New Delhi. आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल जुटे हुए हैं। हालांकि इस समय संसद सत्र भी चल रहा है, जो इस सरकार का अंतिम सत्र है। ऐसे में संसद में भी काफी गहमा-गहमी बनी हुई है। संसद सत्र के समाप्त होते ही राजनीतिक दलों के नेता अपने-अपने क्षेत्रों में चुनाव प्रचार में डट जाएंगे। हालांकि इस बीच एक खबर बड़ी खबर आई है। दरअसल, कांग्रेस के एक सांसद ने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया, जिसे लेकर सियासी अटकलें लगाई जा रही है।

राजस्थान में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस सांसद डॉ. रघु शर्मा ने केकड़ी की विधायकी का चुनाव लड़ा इस चुनाव में उन्होंने सफलता हासिल की थी। ऐसे में डॉ. शर्मा इस समय विधायक और सांसद दोनों पदों पर थे। विधानसभा चुनाव में जीत के बाद डॉ. रघु शर्मा ने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को अपना इस्तीफा सौंप दिया। हालांकि संसद के शीतकालीन सत्र के चलते डॉ. शर्मा शनिवार तक लोकसभा में मौजूद रहेंगे।

चुनावों के बाद अब खुलकर सामने आए दिग्विजय, बोले…मैं गर्दिश में था, लेकिन…

डॉ. रघु शर्मा अजमेर जिले के कद्दावर कांग्रेस नेताओं में शामिल हैं। वे हाल में जनवरी में हुए लोकसभा उपचुनाव में सांसद चुने गए थे। उन्होंने मौजूदा नसीराबाद विधायक रामस्वरूप लांबा को 80 हजार से ज्यादा वोट से हराया था। हाल में हुए विधानसभा चुनाव में डॉ. शर्मा केकड़ी से विधायक निर्वाचित हुए हैं। अशोक गहलोत सरकार का जल्द मंत्रीमंडल गठन होना है। माना जा रहा है कि डॉ. शर्मा को भी मंत्रीमंडल में शामिल किया जाएगा। विधायक डॉ. रघु शर्मा पूर्ववर्ती अशोक गहलोत सरकार में वर्ष 2011-12 से 2013 तक मुख्य सचेतक भी रहे हैं। इसके अलावा प्रदेश कांग्रेस के कई पदों पर जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।

बता दें कि वर्ष 2014 में तत्कालीन जल संसाधन मंत्री प्रो. सांवरलाल जाट अजमेर से सांसद चुने गए थे। वे मई 2017 तक सांसद और केंद्रीय गंगा पुनरुद्धार मंत्री रहे। बीते साल अगस्त में उनकी मृत्यु हो गई। 29 जनवरी, 2018 को अजमेर में लोकसभा उपचुनाव कराए गए। इसमें डॉ. शर्मा ने प्रो. जाट के पुत्र रामस्वरूप लाम्बा को हराया था। डॉ. शर्मा के इस्तीफे से अजमेर में सांसद पद फिर रिक्त हो जाएगा। 2019 में लोकसभा चुनाव होने पर अजमेर को नया सांसद मिल पाएगा।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने सपा को भेजा आमंत्रण, कर सकती है बड़ा ऐलान


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *