कुम्भी ब्लॉक प्रमुख को लगा तगड़ा झटका, विरोध में पड़े 97 वोट

कुम्भी ब्लॉक प्रमुख को लगा तगड़ा झटका, विरोध में पड़े 97 वोट

ब्लाक प्रमुख के खिलाफ 97 बीडीसी सदस्यों ने किया मतदान, 15 सदस्यों ने जताया भरोसा, 122 बीडीसी में 114 सदस्य रहे उपस्थित


Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Pin on PinterestShare on LinkedIn

ब्लाक प्रमुख के खिलाफ 97 बीडीसी सदस्यों ने किया मतदान, 15 सदस्यों ने जताया भरोसा, 122 बीडीसी में 114 सदस्य रहे उपस्थित

गोला गोकर्णनाथ, खीरी। कुम्भी ब्लॉक प्रमुख प्रतिभा सिंह के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में भारी गहमा—गहमी के बीच शांतिपूर्ण ढंग से मतदान हुआ, जिसमें कुल 122 बीडीसी सदस्यों में से 114 सदस्यों ने मतदान किया। जबकि अविश्वास के पक्ष में 97, ब्लॉक प्रमुख प्रतिभा सिंह के पक्ष में 15 और 2 मत अवैध पाये गये और आठ सदस्यों ने मतदान में भाग नहीं लिया।

सोमवार को एसडीएम अखिलेश यादव की अध्यक्षता में 11 बजे बैठक शुरू हुई, जिसमें 11 से एक बजे तक अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की गई। इसके बाद लगभग एक बजे से मतदान शुरू होकर तीन बजे तक चला और इसके बाद मतगणना की गई। जिसमें 97 मतों से प्रतिभा सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित हुआ। बैठक में एडीओ पंचायत पसगवां वाचस्पति झा, राजस्व निरीक्षक विजय श्रीवास्तव, लेखपाल अनिल त्रिपाठी मौजूद रहे। अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान शुरू होने से पूर्व ही ब्लाक मुख्यालय पुलिस की छावनी बना रहा। गेट से अंदर तक पुलिसकर्मी ड्यूटी पर तैनात रहे। बीडीसी सदस्यों के अलावा किसी को भी गेट के अंदर नहीं जाने दिया गया। इस दौरान सीओ पलिया, कोतवाल प्रमोद कुमार मिश्र, सहित आस पास थानों का फोर्स मौजूद रहा।

अविश्वास प्रस्ताव आते ही झूम उठे विधायक समर्थक

ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित होने की उम्मीद लगाए विधायक अरविंद गिरि के अग्रज जनार्दन, अनुज अजय गिरि, भतीजे कन्हैया गिरि, भाजपा नगराध्यक्ष दीपेंद्र गुप्त, विजय माहेश्वरी, विश्वनाथ सिंह, रामगुलाम पांडे, राजेंद्रसिंह भदौरिया, रामपाल सिंह काफी समर्थकों साथ ब्लाक मुख्यालय गेट पर डटे रहे। अविश्वास प्रस्ताव की घोषणा होते ही खुशी मनाई और एक दूसरे का मुंह मीठा कराया।

प्रमुख पद के दावेदार विधायक अरविंद गिरि के दो चहेते बीडीसी ब्लॉक प्रमुख पद के दावेदार बताए जा रहे हैं। इनमें पूर्व ब्लाक प्रमुख रहे राजेंद्रसिंह भदौरिया का पुत्र रितेश और विमल वर्मा की दावेदारी मानी जा रही है। यह दोनों बीडीसी ब्लाक मुख्यालय पर मतदाता बीडीसी की आवभगत में लगे देखे गए। अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद दोनों के चेहरों पर खुशी देखते ही बन रही थी।

यह भी पढ़ें ... कांग्रेसियों ने धूमधाम से मनाया पूर्व प्रधानमंत्री का जन्मदिन


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *