समीर पांडेय सुसाइड केस में आया कांग्रेस पूर्व प्रदेश अध्यक्ष का नाम, मची सनसनी

समीर पांडेय सुसाइड केस में आया कांग्रेस पूर्व प्रदेश अध्यक्ष का नाम, मची सनसनी



फैजाबाद। फैजाबाद शहर के चौक क्षेत्र में समीर पांडे नाम के व्यक्ति ने अपने घर के कमरे में ही फांसी के फंदे से झूल कर आत्महत्या कर ली और एक सुसाइड नोट पीछे छोड़ दिया। सुसाइड नोट पढ़ने के बाद राजनीति गलियारों और पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। सुसाइड नोट में मृतक ने कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व कद्दावर नेता डॉ. निर्मल खत्री का नाम लिखा है। मृतक ने लिखा मम्मी पापा निर्मल खत्री से मुकदमा ना लड़ो वो पावरफुल इंसान है। इस सुसाइड नोट के सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है, वहीँ मरने वाले युवक के माँ बाप ने भी सनसनीखेज़ आरोप लगाए हैं|

दरअसल समीर पांडे के आत्महत्या के पीछे एक विद्यालय की संपत्ति का विवाद जुड़ा है जो इस समय हाई कोर्ट में विचाराधीन है। समीर पांडे अपने परिवार के साथ कोतवाली नगर के कोठापार्चा मोहल्ले में रहता था और जिस विद्यालय का विवाद है वह विद्यालय थाना रौनाही के ड्योढ़ी में स्थित है और नाम है राम वल्लभा इंटर कॉलेज।रामवल्लभा इंटर कॉलेज के प्रबंध समिति में 57 सदस्य हैं जिसमें मृतक के मां बाप अंजनी कुमार पांडे व सत्या पांडे सदस्य हैं।

यह भी पढ़ें ..बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस को दिया तगड़ा झटका, इस नेता को ठहराया जिम्मेदार

मृतक की मां सत्या पांडे की बात माने तो निर्मल खत्री ने विद्यालय की संपत्ति पर कब्जा कर रखा है और उनको बहुमत के आधार पर बेदखल कर दिया है। जिसको लेकर मृतक के मां बाप ने रजिस्टार आफ सोसाइटीज कंपनीज में दावा भी दायर किया जिसमें मृतक के मां-बाप को सबूतों के अभाव में शिकस्त मिली लेकिन मृतक के मां बाप ने हार नहीं मानी और हाईकोर्ट में अपील किया। यह मामला हाई कोर्ट में पिछले 9 साल से विचाराधीन चल रहा है। इसी विवाद के चलते मृतक ने अपने सुसाइड नोट में लिखा की मम्मी पापा आप निर्मल खत्री से मुकदमा मत लड़ो वह पावरफुल आदमी है। मृतक के मां बाप की माने तो निर्मल खत्री कई बार धमकी भी दे चुके हैं।

आरोपों के घेरे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष

वहीँ इस पूरे मामले पर कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री ने कहा कि आरोप निराधार है मुकदमा मृतक के मां बाप ने ही किया है और सबूतों के अभाव में रजिस्टार आफ सोसाइटीज कंपनी से मुकदमा भी हार चुके हैं। अब मामला हाईकोर्ट में विचाराधीन है। रही बात धमकी की तो सारा शहर जानता है निर्मल खत्री किस तरह के आदमी हैं कि क्या वह किसी को धमकी दे सकते हैं। फिलहाल मामला अब पुलिस के पास है कोतवाली नगर पुलिस को इंतजार है मृतक के परिजनों की तरफ से तहरीर का। प्रभारी एसएसपी ने भी कहा है कि तहरीर मिलने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें ... ये हैं देश की छह दंबग महिला आईपीएस, अपराधी ही नहीं नेता भी खाते हैं खौफ


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *