बाघ के हमले से गुस्साई भीड़ ने फूंकी चौकी, वन दारोगा को पीटा, 50 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बाघ के हमले से गुस्साई भीड़ ने फूंकी चौकी, वन दारोगा को पीटा, 50 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज



गोला गोकर्णनाथ, खीरी। लखीमपुर खीरी के महेशपुर वनरेंज में लगातार बाघ की दहशत से ग्रामीण खासे सहमे हुए हैं। गुरूवार को खेत पर चारा लेने गए एक ग्रामीण पर अचानक बाघ ने हमलाकर घायल कर दिया, जिससे गुस्साए ग्रामीणों जमकर बवाल किया। यही नहीं, ग्रामीणों ने हाइवे जाम कर वन चौकी, वन विभाग की गाड़ियां और कार्यालय को आग के हवाले कर दिया। भीड़ को समझाने पहुंचे वन दारोगा को भीड़ ने जमकर पीटा। वहीं, घटना के बाद सूचना पर एसडीएम अखिलेश यादव, सीओ मोहम्मदी विजय आनन्द, हैदराबाद एसओ सतेन्द्र कुमार सिंह ने मौके पर पहुंचकर स्थित संभाली। वहीं, देररात वन विभाग ने करीब 10 नामजद और 40 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम अयोध्यापुर निवासी 45 वर्षीय कंधई लाल पुत्र दौलतराम खेत से चारा लेने गया था। इसी दौरान बाघ ने अचानक हमला बोल घायल कर दिया। बाघ के हमले के बाद गुस्साई भीड़ ने घायल कंधई को महेशपुर वन रेंज के लेकर पहुंची।

नाराज लोगों ने गोला मोहम्मदी मार्ग जाम करने के बाद दफ्तर में घुसकर जमकर तोड़फोड़़ की और वन चौकी में आग लगा दी। इतने में भी उनका गुस्सा शांत नहीं हुआ तो उन्होंने सामने खड़े वन दरोगा धर्मेंद्र श्रीवास्तव और राम प्रसाद को खींच लिया और दोनों की पिटाई कर दी।

सूचना पर पहुंची हैदराबाद पुलिस और फायर ब्रिगेड टीम को भी लोगों की नाराजगी का सामना करना पडा। इसके बाद एसडीएम अखिलेश यादव ने ग्रामीणों को समझा—बुझाकर मामला शांत किया और घायल कंधई को उपचार के लिए सीएचसी गोला भेजा जहां उसे प्राथमिक उपचार के बाद रेफर कर दिया गया।

बताया जा रहा है कि आगजनी की घटना से वन विभाग को काफी नुकसान हुआ है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, वन विभाग की टीम ने हैदराबाद थाना पहुंच भीड़ को उकसाने और सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में दस नामजद और करीब 40 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें … लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा की बड़ी जीत, उपुचनाव में सपा से छीनी ये सीट


You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *